close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

ENGWvINDW : इन 4 भारतीय महिला खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर रहेंगी सबकी नजरें

भारतीय महिला क्रिकेट टीम लंबे अंतराल के बाद सफेद पोशाक में खेलते हुए दिखने वाली है। इंग्लैंड के दौरे पर गई महिला टीम 16 से 19 जून तक ब्रिस्टल में एक टेस्ट मैच की सीरीज मेजबान टीम के खिलाफ खेलते हुए नजर आएगी। इस टेस्ट मैच के लिए घोषित हुई टीम की कमान मिताली राज को सौंपी गई है, वहीं इसके अलावा टीम में ऐसे खिलाड़ी भी हैं, जिन्होंने पिछले कुछ सालों में लिमिटेड ओवरों क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन किया है।

इंग्लैंड महिला टीम के खिलाफ होने वाले इस टेस्ट मैच में सभी की नजरें रहने वाली हैं, क्योंकि इसके बाद इस साल के अंत में भारतीय महिला टीम को ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर एक टेस्ट मैच की सीरीज ओर खेलनी है, जो डे-नाइट टेस्ट मैच होगा। हम आपको इंग्लैंड के खिलाफ 4 ऐसी भारतीय महिला खिलाड़ियों के नाम बताने जा रहे, जिनके प्रदर्शन पर सभी की नजरें टिकी रहने वाली हैं।

4 – स्मृति मंधाना (2 टेस्ट मैच)

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की धाकड़ ओपनिंग बल्लेबाज स्मृति मंधाना के कंधों पर पारी की शुरुआत करने की जिम्मेदारी रहेगी। यदि स्मृति अपने इस काम को बखूबी अंजाम देने में कामयाब हो जाती हैं, तो टीम की जीत का प्रतिशत काफी बढ़ जाएगा। हालांकि स्मृति को अभी सिर्फ 2 टेस्ट मैच खेलने का अनुभव हासिल है, जिसमें उन्होंने 27 के औसत से 81 रन बनाए हैं। लेकिन स्मृति को लिमिटेड ओवर्स में इंग्लैंड की पिचों पर खेलने का अनुभव हासिल है, जिसका लाभ भारतीय टीम को जरूर मिल सकता है।

3 – हरमनप्रीत कौर (2 टेस्ट मैच)

टी-20 क्रिकेट में भारतीय टीम की कप्तान ऑलराउंडर खिलाड़ी हरमनप्रीत कौर पर मध्यक्रम में एक बल्लेबाज के तौर पर बड़ी जिम्मेदारी रहने वाली है। हरमन ने अपने करियर में अभी तक 2 टेस्ट मैच खेले हैं, जिसमें वह बल्ले से कुछ खास कमाल नहीं दिखा सकी। लेकिन अपनी ऑफ स्पिन गेंदबाजी के जरिए हरमन ने जरूर 9 विकेट हासिल किए हैं। भारतीय टीम को हरमन की बल्लेबाजी के साथ उनकी स्पिन गेंदबाजी का भी बेहद लाभ मिल सकता है, जो एक्स फैक्टर के तौर काम करेगा।

2 – झूलन गोस्वामी (10 टेस्ट मैच)

अनुभवी तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी के कंधों पर तेज गेंदबाजी के नेतृत्व का जिम्मा रहेगा। झूलन ने अभी तक करियर में खेले 10 टेस्ट मैचों में 16.62 के औसत से 40 विकेट हासिल किए हैं। इसके अलावा झूलन ने 3 बार एक पारी में 5 विकेट लेने के साथ 1 बार एक मैच में 10 विकेट भी हासिल किए हैं। इंग्लैंड में हालात को देखते हुए झूलन भारतीय टीम के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण खिलाड़ी होने वाली हैं।

1 – मिताली राज (10 टेस्ट मैच)

अनुभवी कप्तान और दिग्गज बल्लेबाज मिताली राज के लिए उनके करियर की यह सबसे बड़ी टेस्ट सीरीज साबित हो सकती है। मिताली ने अभी तक 10 टेस्ट मैच अपने करियर में खेले हैं, जिसमें उन्होंने 16 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 51 के औसत से 663 रन बनाए हैं, इसमें 1 शतक और 4 अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं। मध्यक्रम में बल्लेबाजी करने वाली मिताली को एक बल्लेबाज के साथ कप्तान के तौर पर भी बड़ी जिम्मेदारी निभानी होगी, ताकि टीम इस एकमात्र टेस्ट सीरीज में जीत हासिल कर सके।

Leave a Response