close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

अब खिलाड़ियों को उम्र में धोखाधड़ी पड़ेगी महंगी, बीसीसीआई लाया ये प्लान

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई उम्र में धोखाधड़ी करने वाले खिलाड़ियों के लिए एक कड़ा नियम बनाया है। जिससे आने वाले समय में भारतीय क्रिकेट में एज फ्रॉड की घटनाओं पर कंट्रोल मिलेगा साथ ही ऐसे खिलाड़ियों पर बैन भी लगाया जाएगा। ये नया नियम साल 2020-21 सीजन में बीसीसीआई के सभी आयुवर्ग के टूर्नामेंट्स में शामिल होने वाले खिलाड़ियों पर लागू होगा। बीसीसीआई के इस नए प्लान में खिलाड़ी अपनी गलती मान लेता है, तो वह बच सकता है। लेकिन अगर वह अपनी सही उम्र छुपाता और जांच में पकड़ा जाता है तो उस पर दो साल का बैन लगेगा।

द्रविड़ के सुझाव को गांगुली ने माना

बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी के प्रमुख राहुल द्रविड़ के सुझाव को मानते हुए उम्र में धोखाधड़ी करने वाले क्रिकेटरों से कड़ाई से निपटने पर जोर दिया है। भारत में क्रिकेट की संचालन संस्था ने कहा कि अंडर-16 आयु वर्ग टूर्नामेंट में सिर्फ 14 से 16 साल के बच्चों को ही खेलने की हिजाजत होगी। जबकि अंडर-19 आयु वर्ग में अगर खिलाड़ी की जन्मतिथि का पंजीकरण वास्तविक तिथि से दो साल से अधिक समय बाद पाया जाता है तो उसे बीसीसीआई के अंडर-19 टूर्नामेंट में खेलने के वर्षों की संख्या सीमित कर दी जाएगी। एज फ्रॉज से निपटने के लिए बीसीसीआई 24 घंटे चलने वाली हेल्पलाइन भी शुरु करेगी।

बोर्ड का रुख स्पष्ट

बीसीसीआई उम्र में धोखाधड़ी करने वाले इस खिलाड़ियों से सख्ती से निपटने की तैयारी कर रहा है। नई नीति के तहत जो खिलाड़ी अपने फर्जी दस्तावेज जमा करेगा और बाद में यह कबूल करेगा कि उसने अपनी जन्मतिथि से छेड़छाड़ की है। तो उसे बैन नहीं किया जाएगा और सही आयु बताने पर टूर्नामेंट्स में खेलने दी जाएगी। लेकिन खिलाड़ी को अपने हस्ताक्षर किए हुए पत्र/ईमेल दाखिल करना होगा, जिसके साथ उसे 15 सितंबर तक संबंधित विभाग से सत्यापन कराते हुए असली जन्मतिथि के दस्तावेज जमा करने होंगे।

बैन की शर्त

वहीं अगर क्रिकेटर रजिस्ट्रेशन के दौरान अपनी सच्चाई छुपाने के साथ-साथ इसका खुलासा भी नहीं करता है। उसके बाद जांच में पकड़ा जाता है, तो उसे दो साल का बैन झेलना पड़ेगा। साथ ही दो साल बैन झेलने के बाद खिलाड़ी को बीसीसीआई के आयु वर्ग के टूर्नामेंट में खेलने की अनुमति नहीं होगी। इसके अलावा जो खिलाड़ी निवास संबंधी गड़बड़ी करता है, उस पर भी दो साल का बैन लगेगा। यहां स्वयं अपना अपराध कबूल करने की नीति लागू नहीं होगी।

IPL 2020: 5 बल्लेबाज जो यूएई में कर सकते हैं जबरदस्त प्रदर्शन

Leave a Response

Manoj Tiwari

The author Manoj Tiwari

100 MB Sports में कंटेट राइटर का पद संभालते हुए काम का लुत्फ उठा रहे हैं। कम बोलने में विश्वास और काम को ज्यादा तवज्जो देने में भरोसा रखते हैं। मुंबई में साल भर से ज्यादा समय बिता चुके हैं, शहर को लेकर खुद की अपनी राय रखते हैं। स्पोर्ट्स हमेशा से पसंदीदा बीट रही है, अपने करियर की पारी शुक्रवार मैगजीन से शुरू की, जो स्पोर्ट्सकीड़ा और स्पोर्ट्सवाला से होते हुए अब 100 MB Sports तक आ गयी है। बीच में हमने राजनीति से लेकर मनोरंजन और यात्रा बीट पर भी काम किया, लेकिन स्पोर्ट्स की भूख खत्म नहीं हुई। मायानगरी में जब काम नहीं कर रहे होते हैं, तो शहर घूम रहे होते हैं। अभी के लिए बस इतना ही। हमें और जानना है, तो लिखा हुआ पढ़ लीजिये।