close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

जिस खिलाड़ी ने तोड़ा दिल, उसे ही सम्मानित करेगा न्यूजीलैंड ?

चार साल की नाकामियों को खिताबी जीत में बदलने की न्यूजीलैंड की कोशिश सिर्फ एक खिलाड़ी की बदौलत पूरी नहीं हो पाई और वो थे बेन स्टोक्स। विश्व कप फाइनल में स्टोक्स अंत तक इंग्लैंड को खिताबी जीत दिलाने में डटे रहे। फिर बात चाहे निर्धारित 50 की हो या सुपर ओवर की उन्होंने हार नहीं मानी और अंत में टीम को विश्व कप दिलाने में अहम भूमिका निभाई। स्टोक्स ने फाइनल में 84 रनों की पारी खेली थी। इससे इंग्लैंड की टीम 241 रन बनाकर मैच टाई कराने में सफल रही थी और फिर सुपर ओवर में स्टोक्स ने जोस बटलर के साथमिलकर 15 रन बनाए थे। इंग्लैंड ने यह मैच अधिक बाउंड्री के आधार पर जीता था।

स्टोक्स की पारी ने न्यूजीलैंड के विश्व विजेता बनने के सपने को तोड़ दिया लेकिन अब यह देश उन्हें सम्मानित कर सकता है। स्टोक्स को ‘न्यूजीलैंडर ऑफ द ईयर’ पुरस्कार के लिये नामांकित किया गया है। उनके साथ देश के क्रिकेट कप्तान केन विलियमसन को भी इस लिस्ट में जगह मिली है।

‘न्यूजीलैंडर ऑफ द ईयर’ अवॉर्ड्स प्रमुख कैमरन बेनेट ने कहा, ‘‘वह भले ही न्यूजीलैंड के लिए नहीं खेल रहा हो, लेकिन वह क्राइस्टचर्च में जन्मा है, जहां उसके माता पिता अभी रहते हैं और न्यूजीलैंड के देसी मूल (माओरी वंश) के होने के नाते कुछ कीवी लोग अब भी उस पर न्यूजीलैंड का ही अधिकार मानते हैं। ’’

आपको बता दें कि न्यूज़ीलैंड के क्राइस्टचर्च में जन्म लेने वाले स्टोक्स 12 साल की उम्र में इंग्लैंड आ गए थे। उनके पिता रग्बी लीग खेलते थे और बाद में इंग्लैंड में कोचिंग देने आ गए। कुछ समय बाद उनके माता-पिता तो वापस न्यूजीलैंड लौट गए लेकिन स्टोक्स इंग्लैंड में ही रह गए और वहीं अपने क्रिकेट करियर को आगे बढ़ाया।

इससे पहले विश्व कप में शानदार प्रदर्शन के लिए इंग्लैंड में प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बोरिस जॉनसन और जेरेमी हंट ने कहा था कि स्टोक्स को नाइटहुड (सर की उपाधि) मिल सकती है।

Leave a Response

Shashank

The author Shashank

2011 विश्व कप के साथ शशांक ने अपनी खेल पत्रकारिता की शुरआत की। क्रिकेट के मैदान से लेकर हर छोटी बड़ी खबरों पर इनकी नज़र रहती है। खेल की बारीकियों से लेकर रिकॉर्ड बुक तक, हर उस पहलू पर नजर होती है जिसे आप पढ़ना और जानना चाहते हैं। क्रिकेट के अलावा दूसरे खेलों में भी इनकी गहरी रूची है। कई बड़े मीडिया हाउस को अपनी सेवा दे चुके हैं।