close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

जन्मदिन विशेषः शेन बॉन्ड के करियर के टॉप-3 गेंदबाजी प्रदर्शन

क्रिकेट में हम सभी ने जहां एक से एक दिग्गज बल्लेबाज देखें हैं, तो वहीं हमें एक से एक महान गेंदबाज भी देखने को मिले हैं, जिन्होंने बल्लेबाजों को अपनी गेंदों के आगे नतमस्तक कराया है। ऐसे ही एक गेंदबाज का नाम शेन बॉन्ड है, जो न्यूजीलैंड टीम के पूर्व तेज गेंदबाज रहे हैं। बॉन्ड की तेज गति और स्विंग होती गेंद के आगे बल्लेबाज हमेशा असहज स्थिति में दिखते थे ।

शेन बॉन्ड ने जिस समय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी गेंदबाजी का जलवा बिखेरा उस वक्त सचिन तेंदुलकर, रिकी पोंटिंग और ब्रायन लारा के बीच बल्लेबाजी में एक अलग जंग देखने को मिलती थी। लेकिन दूसरी तरफ शेन बॉन्ड अपनी गति के जरिए सभी जगह चर्चा का विषय भी बने हुए थे। हालांकि बॉन्ड को अपने करियर के दौरान कई बार चोटिल होने की समस्या से भी जूझना पड़ा जिसके चलते उनका अंतरराष्ट्रीय करियर अधिक लंबा नहीं हो सका और वह टेस्ट क्रिकेट में भी सिर्फ 18 मैच ही खेल सके।

शेन बॉन्ड ने अपने अंतराष्ट्रीय करियर में 18 टेस्ट, 82 वनडे और 20 टी-20 मैच खेले, जिसमें तीनों में मिलाकर उन्होंने 21.37 के औसत से कुल 259 विकेट हासिल किए। वहीं बॉन्ड ने अपने करियर के दौरान 9 बार एक पारी में 5 विकेट हासिल करने का कारनामा किया। हम आपको शेन बॉन्ड के 46वें जन्मदिन के मौके पर उनके करियर के टॉप-3 गेंदबाजी प्रदर्शन के बारे में बताने जा रहे हैं।

3 – बनाम ऑस्ट्रेलिया (एडिलेड वनडे, 5 विकेट)

न्यूजीलैंड की टीम साल 2001-02 में वनडे सीरीज खेलने के लिए ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर गई हुई थी। इस दौरान दोनों ही टीमों के बीच एडिलेड के मैदान पर मैच खेला जा रहा था। इस मैच में कीवी टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला करते हुए 50 ओवरों में नाथन एस्टल के 95 रनों की बदौलत 5 विकेट के नुकसान पर 242 रन बनाये।

जवाब में सभी को उम्मीद थी कि मजबूत ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजी क्रम इसे आसानी से हासिल कर लेगा। लेकिन शेन बॉन्ड ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को शुरूआती झटके देते हुए उन्हें मैच में जीत से पहले ही दूर कर दिया। बॉन्ड ने इस मैच में 9.2 ओवरों की गेंदबाजी में 25 रन देकर 5 विकेट हासिल किए थे।

2 – बनाम जिम्बाब्वे (बुलवायो टेस्ट, 6 विकेट)

साल 2005-06 में न्यूजीलैंड की टीम जिम्बाब्वे के दौरे पर 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेलने गई थी, जिसमें दोनों ही टीमों के बीच सीरीज का दूसरा मैच बुलवायो के मैदान पर खेला जाना था। इस मैच में मेजबान टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। लेकिन न्यूजीलैंड की तरफ से खेल रहे शेन बॉन्ड एक अलग ही इरादे के साथ मैदान में उतरे थे। उन्होंने जिम्बाब्वे टीम की पहली पारी में 17 ओवरों की गेंदबाजी में 51 रन देकर 6 खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा था। इस टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड ने एक पारी और 46 रनों से जीत हासिल की थी।

1 – बनाम भारत (बुलवायो वनडे, 6 विकेट)

भारत और न्यूजीलैंड की टीम के बीच साल 2005-06 में जिम्बाब्वे में हुई त्रिकोणीय वनडे सीरीज में आमना-सामना बुलवायो के मैदान में सीरीज के दूसरे मैच में हुआ था। इस मैच में कीवी टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया था, जिसके बाद पूरी टीम 43.1 ओवर में 215 रन बनाकर सिमट गई। सभी को उम्मीद थी कि भारतीय टीम इस मैच को आसानी से जीत लेगी। लेकिन शेन बॉन्ड ने अपने 9 ओवरों की गेंदबाजी में सिर्फ 19 रन देकर 6 भारतीय खिलाड़ियों को पवेलियन भेजा और टीम के लिए जीत की राह सुनिश्चित कर दी । इस मैच में भारतीय टीम की पारी 37.2 ओवरों में 164 के स्कोर पर सिमट गई थी, जिससे न्यूजीलैंड ने मैच में 51 रनों से जीत हासिल की थी।

Leave a Response