close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

वेस्टइंडीज के विश्वकप अभियान में अहम भूमिका निभाने को तैयारः आंद्रे रसेल

मोहॉक हेयर स्टाइल रखने वाले आंद्रे रसेल ने विश्वकप 2015 के बाद मात्र 2 वनडे मुकाबले खेले थे, लेकिन उन्हें कैरेबियाई चयनकर्ताओं ने विश्वकप की टीम जगह दी। विस्फोटक बल्लेबाज और नैसर्गिक ऑलराउंडर रसेल ने आईपीएल 2019 में शानदार प्रदर्शन करके टीम में जगह हासिल की। वेस्टइंडीज की सफलता विश्वकप 2019 में आंद्रे रसेल के ऊपर बहुत ज्यादा निर्भर करती है।

आईपीएल 2019 में दिखाय दम

आईपीएल में रसेल ने 200 से ज्यादा के स्ट्राइक रेट से बल्लेबाजी करने वाले पहले बल्लेबाज बने और इस दौरान उनका औसत 57 रन का रहा है। टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले डेविड वार्नर और डेथ ओवरों में कमाल की बल्लेबाजी करने वाले एमएस धोनी का स्ट्राइक रेट क्रमशः 144 और 135 का रहा है।

बाउंसर भी अच्छी करते हैं रसेल

विश्वकप से पहले गैर आधिकारिक मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ गेंदबाजी करते हुए रसेल ने बाउंसर से उस्मान ख्वाजा को चौंका दिया। गेंद उनके हेलमेट में लगी और उन्हें रिटायर हर्ट होकर मैदान से वापस जाना पड़ा। ख्वाजा की चोट ज्यादा गंभीर नहीं थी, लेकिन रसेल ने अपनी छाप जरूर छोड़ दी थी। पिछले महीने 31 वर्ष के हुए आंद्रे रसेल फिलहाल जल्दी में नजर आ रहे हैं, जिसकी वजह भी साफ है।

ड्रग्स टेस्ट में पाए गए थे पॉजिटिव

साल 2016 में अपनी टीम को टी-20 क्रिकेट का बादशाह बनाने वाले रसेल आईपीएल और केएफसी लीग में खेलते हुए नजर आए। जिसके बाद वह तीन ड्रग्स टेस्ट में असफल हो गए और उनपर 12 महीने का बैन लग गया। आंद्रे रसेल इस दौरान खुद से बेहद खफा नजर आए और उन्होंने बहुत ज्यादा प्रोफेशनल और व्यवस्थित किया।

आंद्रे रसेल ने इस पूरे मामले पर cricket.com.au से बात करते हुए कहा

बहुत से लोगों को ये लगता है कि मैंने प्रतिबंधित स्टेरॉयड लिया था। मुझे ये बात बहुत बुरी लगी, मैंने ड्रग्स नहीं लिया था। ये किसी क्रिकेटर के लिए लाभकारी नहीं होता है, आप इसकी मदद से गेंद स्विंग नहीं करा सकते हैं। स्विंग प्राकृतिक विधा होती है, जो ताकत से नहीं आती है। रही बात बल्लेबाजी की तो जब आपके बल्ले पर सही से गेंद आएगी ही नहीं तो कैसे आप बड़े शॉट खेल सकते हैं।

बेहतर प्रदर्शन की है भूख

रसेल का मानना है कि बैन के बाद वापस मैदान पर वह और मजबूती के साथ आए हैं, जितने दिन वह मैदान से दूर थे उसकी भरपाई करने के लिये वह तैयार हैं। बैन के दौरान रसेल ट्रेनिंग से भी दूर थे, वह खुद को अपराधी जैसा महसूस करते थे। लेकिन आखिर में वह खुद को एथलीट मानकर इन चुनौतियों का सामना करने के लिये तैयार हो गए। हालांकि वह चाहते हैं कि जैसा अनुभव उन्होंने किया है, उस तरह कोई और क्रिकेटर न करे।

विश्वकप  के लिए हैं तैयार

आंद्रे रसेल ने 2015 के बाद वनडे नहीं खेला है, इसलिए वह खूब मेहनत करते हैं जिससे उनका शरीर 100 ओवर के मुकाबले के लिए तैयार रहे। रसेल ने इसके लिए यूनाइटेड स्टेट्स में एनएफएल टीम की ट्रेनिंग चार्ट को फॉलो करते हैं। रसेल विश्वकप के लिए पूरी तरह तैयार हैं और वॉर्म अप मुकाबले में न्यूजीलैंड व पहले मुकाबले में पाकिस्तान के खिलाफ उन्होंने इसके संकेत दे दिए थे।

आंद्रे रसेल के अलावा वेस्टइंडीज की टीम में क्रिस गेल, शिमरॉन हेटमायर, एविन लुईस और शाई होप जैसे बेहतरीन क्रिकेटर हैं। जो अपना दिन होने पर किसी भी टीम के लिए खतरा पैदा कर सकते हैं।

विश्वकप 2019 पर रसेल की राय

हमारी टीम विश्वकप जीतने का माद्दा रखती है, हम 1979 के बाद तीसरी बार खिताब जीत सकते हैं। हमारी मौजूदा टीम बेहद संतुलित है और सभी खिलाड़ी अच्छा महसूस कर रहे हैं, साथ ही टीम में सबको अपनी भूमिका पता है। हम पूरी तरह से आश्वस्त हैं, हमारी टीम का कल्चर अपने खेल को एंजॉय करना और दूसरी टीम को हर्ट करना है।

Leave a Response

Manoj Tiwari

The author Manoj Tiwari

100 MB Sports में कंटेट राइटर का पद संभालते हुए काम का लुत्फ उठा रहे हैं। कम बोलने में विश्वास और काम को ज्यादा तवज्जो देने में भरोसा रखते हैं। मुंबई में साल भर से ज्यादा समय बिता चुके हैं, शहर को लेकर खुद की अपनी राय रखते हैं। स्पोर्ट्स हमेशा से पसंदीदा बीट रही है, अपने करियर की पारी शुक्रवार मैगजीन से शुरू की, जो स्पोर्ट्सकीड़ा और स्पोर्ट्सवाला से होते हुए अब 100 MB Sports तक आ गयी है। बीच में हमने राजनीति से लेकर मनोरंजन और यात्रा बीट पर भी काम किया, लेकिन स्पोर्ट्स की भूख खत्म नहीं हुई। मायानगरी में जब काम नहीं कर रहे होते हैं, तो शहर घूम रहे होते हैं। अभी के लिए बस इतना ही। हमें और जानना है, तो लिखा हुआ पढ़ लीजिये।