close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

विश्व क्रिकेट का एकमात्र बल्लेबाज जो टेस्ट क्रिकेट में 299 के स्कोर पर हुआ आउट

किसी भी खिलाड़ी का सपना होता है कि वह अपनी टीम के लिए महत्वपूर्ण योगदान देते हुए रिकॉर्ड बुक में खुद का नाम दर्ज करवा सके। क्रिकेट में हमने ऐसे कई खिलाड़ी देखे हैं, जिनके खेल को लेकर सभी की काफी दिलचस्पी रहती है और टेस्ट क्रिकेट में जब कोई बल्लेबाज बेहतर प्रदर्शन करता है, तो उसकी तकनीक से लेकर बाकी पहलूओं पर भी बात होती है।

टेस्ट क्रिकेट में जहां हम सभी ने कई बड़ी पारियां देखी हैं, तो वहीं कुछ खिलाड़ी ऐसे भी रहे हैं जो काफी करीब से इसे पूरा करने से चूक गए। टेस्ट में शतक लगाना एक बल्लेबाज के करियर में सबसे बड़ा सपना होता है। जब वह इसे लगाने में कामयाब होता है तो वह इसे और भी बड़ी पारी में तब्दील करने की कोशिश करता है जिसके चलते हमें तिहरे शतक से लेकर 400 रन भी बनते हुए देखने को मिले हैं।

इसके बावजूद कई बल्लेबाज शतक तो पूरा कर लेते हैं लेकिन उसके बाद वह अपनी उस पारी को अधिक बड़े स्कोर पर बदलने में कामयाब नहीं हो पाते। हालांकि, दोहरा शतक पूरा करना भी काफी बड़ी उपलब्धि माना जाता है लेकिन क्या आपको पता है कि टेस्ट क्रिकेट में न्यूजीलैंड टीम के पूर्व खिलाड़ी मार्टिन क्रो एकमात्र ऐसे खिलाड़ी हैं, जो 299 के स्कोर पर आउट हुए और सिर्फ 1 रन से तिहरा शतक बनाने से चूक गए।

श्रीलंका के खिलाफ वेलिंगटन में था मैच

श्रीलंका की टीम साल 1991 की शुरुआत में न्यूजीलैंड के दौरे पर थी, जिसमें उसे सीरीज का पहला मैच वेलिंगटन के मैदान पर खेलना था। इस मैच में मेजबान कीवी टीम की पहली पारी सिर्फ 174 रनों पर सिमट गई। वहीं, श्रीलंकाई टीम ने अरविंद डि सिल्वा की 267 रनों की शानदार पारी की बदौलत अपनी पहली पारी में 497 रन बनाते हुए महत्वपूर्ण बढ़त हासिल कर ली थी।

अब न्यूजीलैंड के सामने मैच बचाने की सबसे बड़ी जिम्मेदारी थी और इसमें मार्टिन क्रो ने एंड्रयू जोंस के साथ मिलकर पूरी तरह से टीम को मैच में वापस लाने के साथ उसे ड्रॉ कराने में अहम भूमिका अदा की थी। हालांकि, मार्टिन क्रो 299 के निजी स्कोर पर अर्जुन रणतुंगा का शिकार बनकर पवेलियन लौट गए जो उनके टेस्ट करियर की सर्वाधिक रनों की पारी भी है।

Leave a Response