close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

DYK : क्रिकेट में किस खिलाड़ी को पहली बार दिया गया था ‘हैंडल्ड द बॉल’ आउट

क्रिकेट के खेल में कई ऐसे नियम है जिसका ध्यान इसमें खेलने वाले सभी खिलाड़ियों को खास तौर पर रखना पड़ा है क्योंकि उनकी एक गलती पूरी टीम पर भारी पड़ सकती है। इसी में एक नियम संख्या 33 है जिसमें एक बल्लेबाज को खेल के दौरान गेंद के साथ छेड़छाड़ करने पर हैंडल्ड द बॉल आउट दिया जा सकता है। इस नियम में बल्लेबाज उसी स्थिति में बच सकता है जब वह खुद को गेंद से चोट लगने से बचा रहा है।

लेकिन यदि बल्लेबाज जानबूझकर ऐसा करते पाया गया तो उसे हैंडल्ड द बॉल नियम के अनुसार अंपायर आउट करार दे सकता है। हालांकि यह विकेट गेंदबाज के खाते में नहीं जाएगा। अभी तक इस नियम का शिकार कई दिग्गज खिलाड़ियों को होते हुए देखा गया है और नियम के कारण कई बार विवाद की स्थिति भी देखने को मिली है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस नियम के तहत किस खिलाड़ी को क्रिकेट इतिहास में पहली बार आउट दिया गया था। साउथ अफ्रीका टीम के दिवंगत खिलाड़ी रसेल एनडीन इस नियम के पहले शिकार साल 1957 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच के दौरान बने थे।

DYK : क्रिकेट में किस खिलाड़ी को पहली बार दिया गया था 'हैंडल्ड द बॉल' आउट रसेल एनडीन
रसेल एनडीन

केपटाउन टेस्ट मैच में हुए शिकार

साल 1956-57 में इंग्लैंड की टीम 5 टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने के लिए साउथ अफ्रीका के दौरे पर गई हुई थी। इस दौरे पर दोनों ही टीमों के बीच सीरीज का दूसरा टेस्ट मैच केपटाउन के मैदान में खेला जाना था। मैच में इंग्लैंड की टीम टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 369 का स्कोर बना दिया जवाब में साउथ अफ्रीका की टीम अपनी पहली पारी में 205 रन ही बना सकी।

जिसके बाद इंग्लैंड की टीम ने अपनी दूसरी पारी 220 के स्कोर पर घोषित करते हुए अफ्रीका को चौथी पारी में 385 रनों का लक्ष्य दिया। अफ्रीका के लिए यह लक्ष्य हासिल करना आसान काम नहीं था और टीम के शुरूआती 3 बल्लेबाज सिर्फ 42 के स्कोर तक पवेलियन लौट गए। इस पारी विकेटकीपर बल्लेबाज रसेल एनडीन को उपरी क्रम पर बल्लेबाजी के भेजा गया लेकिन 3 के निजी स्कोर पर उन्हें हैडल्ड द बॉल आउट करार दे दिया गया और बाद में अफ्रीका टीम को इस मैच में 312 रनों से हार का सामना करना पड़ा था।

ऐसा रहा था एनडीन का करियर

रसेल एनडीन के करियर को लेकर बात की जाए तो उन्होंने 28 टेस्ट मैचों में खेलते हुए 52 पारियों में 33.95 के औसत से 1,630 रन बनाए। जिसमें 3 शतक और 8 अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं। वहीं एनडीन ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 7,000 से अधिक रन बनाए हैं।

Leave a Response