close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

ENGvIND: बुमराह और भारतीय पेस के सामने सस्ते में सिमटी इंग्लैंड की पहली पारी

इंग्लैंड बनाम भारत (ENGvIND) के बीच 5 मैचों की टेस्ट सीरीज का आगाज आखिरकार नॉटिंघम के मैदान से हो गया। पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड टीम के कप्तान जो रूट ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का तो फैसला किया लेकिन टीम पहले दिन ही तीसरे सत्र में 183 के स्कोर पर सिमट गई। वहीं दिन का खेल खत्म होने पर भारतीय टीम ने अपनी पहली पारी में 21 रन बिना किसी नुकसान के बना लिए हैं।

(ENGvIND) पहले सत्र में गंवाए 2 विकेट

दोनों टीमों (ENGvIND) की प्लेइंग इलेवन देखने के बाद सभी को हैरानी हुई क्योंकि भारतीय टीम से जहां रविचंद्रन अश्विन और ईशांत शर्मा नदारद थे, तो वहीं इंग्लैंड की टीम इस मैच में बिना किसी विशेषज्ञ स्पिन गेंदबाज के खेलने उतरी। इंग्लैंड को अपने ओपनिंग बल्लेबाजों से उम्मीद थी कि वह टीम को अच्छी शुरुआत देने का काम करेगें लेकिन पहले ओवर की 5वीं गेंद पर रोरी बर्न्स को जसप्रीत बुमराह ने पवेलियन भेज भारत को पहली सफलता दिलाने का काम किया।

इसके बाद डॉम सिबली और जैक क्रॉली ने संभलकर खेलते हुए 42 के स्कोर तक टीम को लेकर गए, लेकिन मोहम्मद सिराज की गेंद पर क्रॉली अपना विकेट गंवा बैठे। लंच के समय जब खेल रुका तो इंग्लैंड का स्कोर 61 रन पर 2 विकेट था।

कप्तान रूट ने संभाला एक छोर

दूसरे सत्र की शुरुआत जैसे ही हुई तो डॉम सिबली को मोहम्मद शमी ने अपना शिकार बनाकर मेजबान को तीसरा झटका देने का काम किया। इसके बाद कप्तान रूट और जॉनी बेयरस्टो ने मिलकर स्कोर को गति के साथ बढ़ाते हुए टीम को इस स्थिति से निकालने का प्रयास किया। इसी दौरान रूट ने अपना अर्धशतक पूरा किया और ऐसा लग रहा था कि दूसरा सत्र इंग्लैंड टीम के पाले में जाएगा।

लेकिन मोहम्मद शमी ने टी ब्रेक होने से ठीक पहले बेयरस्टो को 29 के निजी स्कोर पर पवेलियन भेज, इस साझेदारी को तोड़ने का काम किया। चायकाल के समय तक इंग्लैंड की टीम का स्कोर 4 विकेट के नुकसान पर 138 रन था।

आखिरी सत्र में दिखा शार्दुल और बुमराह का जादू

पहले दिन के आखिरी सत्र का खेल जैसे ही शुरू हुआ तो शमी ने डेन लॉरेंस को शून्य के स्कोर पर ही पवेलियन भेज दिया और इसके थोड़ी देर बाद ही जॉस बटलर भी बुमराह की गेंद पर आउट होकर पवेलिनय लौट गए। शार्दुल ठाकुर ने भारतीय टीम को पहली पारी में सबसे बड़ी सफलता दिलाते हुए जो रूट को 64 के निजी स्कोर पर पवेलियन भेजते हुए यह तय कर दिया कि इंग्लैंड टीम की पहली पारी आखिरी सत्र में ही खत्म हो सकती है।

शार्दुल ने इसी ओवर में ओली रॉबिसन को भी पवेलिनय भेजने का काम किया। अंतिम 2 विकेट जसप्रीत बुमराह ने हासिल करते हुए इंग्लैंड टीम की पहली पारी को 183 के स्कोर पर समेट दिया। पहली पारी में बुमराह ने 4 तो शमी ने 3 विकेट हासिल किए।

वहीं भारतीय टीम की तरफ से पारी की शुरुआत करने उतरे रोहित शर्मा और लोकेश राहुल ने संभलकर खेलते हुए दिन का खेल खत्म होने तक अपना विकेट बचाए रखा। भारतीय टीम का स्कोर पहले दिन का खेल खत्म होने पर बिना किसी नुकसान के 21 रन रहा।

यॉर्कर किंग जसप्रीत बुमराह कैसे बने भारतीय तेज गेंदबाजी का चेहरा

Leave a Response