close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

इयोन मोर्गन : आयरलैंड का वह क्रिकेटर जिसकी कप्तानी में इंग्लैंड बना विश्व विजेता

क्रिकेट के मैदान पर ऐसे बेहद कम ही खिलाड़ी देखने को मिलते हैं, जिन्होंने किसी देश से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने के बाद किसी दूसरे देश के लिए भी खेला है। इसमें मौजूदा समय में जो सबसे बड़ा नाम लोगों के ध्यान में आता है, वह इंग्लैंड लिमिटेड ओवर्स टीम के कप्तान इयोन मोर्गन का है। उन्होंने आयरलैंड की तरफ से अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर की शुरुआत की और बाद में वह इंग्लैंड की तरफ से खेलने लगे।

इयोन मोर्गन ने जहां आयरलैंड को अपनी कप्तानी के दम पर एक समय बेहद मजबूत टीम बना दिया था, वहीं अब वह इंग्लैंड के लिमिटेड ओवर्स टीम के सबसे सफल कप्तान माने जाते हैं, जिनकी कप्तानी में टीम ने अपना पहला वनडे वर्ल्ड कप भी जीता। मोर्गन की गिनती वर्तमान समय में बेहद आक्रामक बल्लेबाजों में की जाती है जो अपने खेल के दम पर किसी भी समय मैच का रुख पलट सकते हैं।

10 सितंबर 1986 को डबलिन में जन्म लेने वाले इयोन मोर्गन ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सफर की शुरुआत साल 2006 में हुए आयरलैंड और स्कॉटलैंड के बीच वनडे मैच से की थी। अपने पहले ही मैच में मोर्गन 99 रन बनाकर पवेलियन लौटे और इसी के साथ वह डेब्यू मैच में इस स्कोर पर आउट होने वाले वनडे क्रिकेट में पहले खिलाड़ी भी बन गए थे।

जल्द ही मिला इंग्लैंड से खेलने का मौका

बाएं हाथ के इस शानदार खिलाड़ी को इंग्लैंड लायंस की तरफ से एक टूर मैच के दौरान दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेलने का मौका मिला। इस मैच में मोर्गन ने समित पटेल के साथ 113 रनों की शानदार मैच विनिंग साझेदारी करते हुए टीम को 6 विकेट से जीत दिलाने में अहम भूमिका अदा की थी। यहां से मोर्गन ने आयरलैंड की तरफ से आगे नहीं खेलने का फैसला लिया।

इसके बाद मोर्गन को वर्ल्ड टी-20 के लिए घोषित हुई इंग्लैंड की 15 सदस्यीय टीम में भी जगह मिल गई और उनके लिए आगे राह लगातार आसान होती चली गई। हालांकि, उन्होंने अपना ध्यान लिमिटेड ओवर्स की तरफ अधिक लगाया और साल 2015 के वनडे वर्ल्ड कप में इंग्लैंड टीम के शर्मनाक प्रदर्शन के चलते उन्हें कप्तानी का जिम्मा सौंपा गया ताकि टीम एक नई सोच के साथ आगे बढ़ सके और इसका लाभ साल 2019 के वनडे वर्ल्ड में साफ तौर पर दिखाई दिया।

अब तक ऐसा रहा है करियर

इयोन मोर्गन के अब तक के अंतरराष्ट्रीय करियर को देखा जाए तो उन्होंने 246 वनडे मैचों में 39.49 की औसत से 7701 रन बनाए हैं, जिसमें 14 शतकीय और 47 अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं। वहीं, टी-20 करियर को लेकर बात की जाए तो 107 मैचों में मोर्गन 28.78 की औसत से 2360 रन बनाने में कामयाब रहे हैं।

Leave a Response