close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

अपने देशों के लिए टेस्ट क्रिकेट में पहला शतक बनाने वाले बल्लेबाज

क्रिकेट का सबसे पुरान प्रारूप टेस्ट क्रिकेट है, जिसमें शतक बनाना हर बल्लेबाज का सपना होता है। इसमें तब चार चांद लग जाता है, जब ये शतक उसके देश का भी पहला शतक होता है। अफगानिस्तान के बल्लेबाज रहमत शाह ने हाल ही में बांग्लादेश के खिलाफ शतकीय पारी खेली है, जो उनकी वह उनके देश के तरफ से टेस्ट क्रिकेट का पहला शतक है। लेकिन क्या आपको पता है कि टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले सभी देशों की तरफ से किस बल्लेबाज ने पहला शतक ठोका। पढ़ें ये खास लेखः

ऑस्ट्रेलिया: चार्ल्स बैनरमैन

सन् 1877 में खेले गए क्रिकेट इतिहास के पहले ही टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज चार्ल्स बैनरमैन ने शतक जड़ दिया था। बैनरमैन ने इंग्लैंड के खिलाफ 165 रन की पारी खेली थी, टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में शतकों का सिलसिला यहीं से शुरू हुआ था।

इंग्लैंड : सर डब्लू जी ग्रेस

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सन् 1880 में इंग्लैंड के बल्लेबाज डब्लू जी ग्रेस ने ओवल में हुए टेस्ट मैच में अपना और अपने देश के लिए टेस्ट क्रिकेट में पहला शतक जड़ा था। ग्रेस ने शानदार 152 रन की पारी खेलकर इंग्लैंड को यादगार जीत दिलाई थी।

दक्षिण अफ्रीका : जिम्मी सिंक्लेयर

सन् 1899 में दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज जिम्मी सिंक्लेयर ने केपटाउन में इंग्लैंड के खिलाफ 106 रन की पारी खेली थी। आपको बता दें कि दक्षिण अफ्रीका के लिए पहला शतक बनने में 8 टेस्ट मैच तक का लंबा इंतजार करना पड़ा था।

वेस्टइंडीज : क्लिफोर्ड रोच

इंग्लैंड के खिलाफ वेस्टइंडीज का डेब्यू टेस्ट मैच ब्रिजटाउन, बारबडोस में खेला गया था। जहां पहले ही मैच में कैरेबियाई बल्लेबाज क्लिफोर्ड रोच ने 122 रन की पारी खेलकर रिकॉर्ड बुक में अपना नाम दर्ज करवा लिया।

न्यूजीलैंड: स्टीवी डेंपस्टर

सन् 1931 में न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज के बीच वेलिंगटन में टेस्ट मैच खेला गया था। जहां दो कीवी बल्लेबाजों ने शतक ठोका था, लेकिन स्टीवी डेंपस्टर (136 रन) ने पहले शतक पूरा किया था। इसलिए रिकॉर्ड बुक में उनका दर्ज हुआ, जबकि दूसरा शतक जैकी मिल्स ने लगाया था।

भारत: लाला अमरनाथ

टीम इंडिया ने टेस्ट क्रिकेट सन् 1932 से खेलना शुरू किया था, जहां दूसरे ही टेस्ट मैच में लाला अमरनाथ ने शतक ठोक दिया था। बॉम्बे जिमखाना क्लब में हुए मुकाबले में अमरनाथ ने 118 रन की पारी खेली थी। हालांकि भारत इंग्लैंड से मुकाबला हार गया था।

पाकिस्तान : नजर मोहम्मद

भारत के खिलाफ सन् 1952 में लखनऊ में हुए टेस्ट मैच में पाकिस्तान के बल्लेबाज नजर मोहम्मद ने 124 रन की पारी खेली। टेस्ट क्रिकेट में पाकिस्तान की तरफ से इस तरह वह शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बने, पाकिस्तान ने ये मुकाबला एक पारी व 43 रन से जीत लिया था।

श्रीलंका : सिदाथ वेटीमुनी

पाकिस्तान के फैसलाबाद में सन् 1982 में श्रीलंका अपना दूसरा टेस्ट मैच खेल रहा था। जहां मैच की पहली ही पारी में बल्लेबाज सिदाथ वेटीमुनी ने 157 रन ठोक दिए थे।

जिम्बॉब्वे : डेव हॉटन

भारत के खिलाफ सन् 1992 में जिम्बॉब्वे के कप्तान डेव हॉटन ने हरारे टेस्ट मैच में शतक ठोक दिया था। ये टेस्ट मैच जिम्बॉब्वे के टेस्ट क्रिकेट के इतिहास का पहला मुकाबला था।

बांग्लादेश : अमीनुल इस्लाम

साल 2000 में बांग्लादेश ने भारत के खिलाफ अपना पहला टेस्ट मैच खेला था। बांग्लादेशी बल्लेबाजों ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 400 रन बनाए थे, जिसमें अमीनुल इस्लाम ने शानदार 145 रन की पारी खेली थी।

आयरलैंड : केविन ओ ब्रायन

साल 2018 में पाकिस्तान के खिलाफ पहले ही टेस्ट मैच में आयरलैंड के ऑलराउंडर केविन ओ ब्रायन ने 118 रन की पारी खेली। वह अपने देश के लिए टेस्ट मैच में शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बने।

अफगानिस्तान : रहमत शाह

बांग्लादेश के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच की सीरीज में अफगानिस्तान के बल्लेबाज रहमत शाह ने 102 रन की शतकीय पारी खेली। रहमत इस तरह अफगानिस्तान के लिए शतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज बन गए हैं, अफगानिस्तान अपना तीसरा टेस्ट मैच खेल रहा है।

Leave a Response

Manoj Tiwari

The author Manoj Tiwari

100 MB Sports में कंटेट राइटर का पद संभालते हुए काम का लुत्फ उठा रहे हैं। कम बोलने में विश्वास और काम को ज्यादा तवज्जो देने में भरोसा रखते हैं। मुंबई में साल भर से ज्यादा समय बिता चुके हैं, शहर को लेकर खुद की अपनी राय रखते हैं। स्पोर्ट्स हमेशा से पसंदीदा बीट रही है, अपने करियर की पारी शुक्रवार मैगजीन से शुरू की, जो स्पोर्ट्सकीड़ा और स्पोर्ट्सवाला से होते हुए अब 100 MB Sports तक आ गयी है। बीच में हमने राजनीति से लेकर मनोरंजन और यात्रा बीट पर भी काम किया, लेकिन स्पोर्ट्स की भूख खत्म नहीं हुई। मायानगरी में जब काम नहीं कर रहे होते हैं, तो शहर घूम रहे होते हैं। अभी के लिए बस इतना ही। हमें और जानना है, तो लिखा हुआ पढ़ लीजिये।