close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

द हंड्रेंड के पहले महिला संस्करण में भारतीय खिलाड़ियों का कुछ ऐसा रहा प्रदर्शन

इंग्लैंड में क्रिकेट के बिल्कुल ही नए फॉर्मेट 100-100 गेंदों के मैचों की शुरुआत देखने को मिली जिसमें पुरुष के साथ महिला टीमों के बीच भी टूर्नामेंट का आयोजन कराया गया। द हंड्रेड के नाम से शुरू हुए इस पहले अनोखी लीग में पुरुषों और महिलाओं की 8-8 टीमों के बीच इसे आयोजित कराया गया था। इसमें भारत की तरफ से हालांकि किसी पुरुष खिलाड़ी ने तो हिस्सा नहीं लिया लेकिन महिला क्रिकेट टीम की 5 धाकड़ खिलाड़ी जरूर खेलती हुई दिखाई दीं।

टी-20 टीम की कप्तान हरमप्रीत कौर, ओपनिंग बल्लेबाज शेफाली वर्मा और स्मृति मंधाना, मध्यक्रम की आक्रामक बल्लेबाज जेमिमा रोड्रिग्स और हरफनमौला खिलाड़ी दीप्ति शर्मा ने इसमें हिस्सा लिया था। इन सभी खिलाड़ियों ने जिस तरह का प्रदर्शन किया, उसकी काफी चर्चा देखने को मिली जिसमें जेमिमा रोड्रिग्स और शेफाली वर्मा ने अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया। हम आपको द हंड्रेंड के पहले सीजन में भारतीय खिलाड़ियों के प्रदर्शन के बारे में बताने जा रहे हैं।

5 – हरमनप्रीत कौर (104 रन)

मैनचेस्टर ओरजिनिल्स टीम का हिस्सा हरमनप्रीत कौर ने सिर्फ 3 मैच ही खेले जिसमें उन्होंने 52 की औसत से कुल 104 रन बनाए। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट जहां 109 का था, तो वहीं उन्होंने एक मैच में 49 रनों की नाबाद पारी भी खेली थी। हरमनप्रीत कौर के बल्ले से 10 शानदार चौके भी इस लीग में देखने को मिले।

4 – दीप्ति शर्मा (77 रन और 10 विकेट)

हरफनमौला खिलाड़ी दीप्ति शर्मा ने भी बल्ले और गेंद दोनों से शानदार प्रदर्शन करते हुए अपनी टीम लंदन स्प्रिरिट के लिए महत्वपूर्ण योगदान दिया। दीप्ति ने जहां 8 मैचों की 6 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 19.25 की औसत से कुल 77 रन बनाए। वहीं, गेंदबाजी में उन्होंने 13.60 की औसत से कुल 10 विकेट हासिल किए जिसमें एक मैच में उन्होंने सिर्फ 10 रन देकर 2 विकेट अपने नाम करते हुए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया था।

3 – स्मृति मंधाना (167 रन)

बाएं हाथ की आक्रामक ओपनिंग बल्लेबाज स्मृति मंधाना के बल्ले का जादू द हंड्रेड में भी देखने को मिला। साउदर्न ब्रेव टीम का हिस्सा स्मृति ने कुल 7 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 27.83 की औसत से 167 रन बनाए। इस दौरान मंधाना के बल्ले से 2 अर्धशतकीय पारियां भी देखने को मिली जिसमें उन्होंने एक मैच में 78 रनों की मैच जिताऊ पारी भी खेली थी।

2 – शेफाली वर्मा (171 रन)

महिला क्रिकेट में पिछले 2 से 3 महीनों में शेफाली वर्मा ने जिस तरह से फैंस के दिलों में अपने खेल के जरिए जगह बनाई है, उससे सभी काफी प्रभावित हुए हैं। पहली ही गेंद से बाउंड्री मारने के इरादे से मैदान पर उतरने वाली युवा ओपनिंग बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने द हंड्रेड में बर्मिंघम फिनिक्स की टीम से खेलते हुए 8 पारियों में 24.42 की औसत से कुल 171 रन बनाए। शेफाली के बल्ले से एक अर्धशतकीय पारी भी देखने को मिली वहीं, उन्होंने यह रन 142.50 की स्ट्राइक रेट के साथ बनाए थे।

1 – जेमिमा रोड्रिग्स (249 रन)

द हंड्रेड के महिला संस्करण में नार्दन सुपरचार्जर्स टीम का हिस्सा जेमिमा रोड्रिग्स सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में दूसरे पायदान पर रहीं। जेमिमा ने 7 पारियों में 41.50 की औसत से 249 रन बनाए जिसमें उनके बल्ले से 3 अर्धशतकीय पारियां भी देखने को मिली। जेमिमा ने एक मैच में 92 रनों की सर्वाधिक पारी खेलते हुए टीम की जीत में अहम योगदान दिया था।

Leave a Response