close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

आईपीएल 2020 सीजन रिव्यूः सनराइजर्स हैदराबाद – फाइनल से एक कदम दूर ही थम गया कारवां

आईपीएल में सनराइजर्स हैदराबाद की टीम के प्रदर्शन में निरंतरता रही है। साल 2016 से टीम लगातार प्लेऑफ में जगह बना रही है। अपनी मजबूत गेंदबाजी लाइन-अप के लिए मशहूर हैदराबाद ने आईपीएल 2020 में फाइनल से एक कदम दूर रह गई।

सकारात्मक बातें

सनराइजर्स हैदराबाद के लिए इस सीजन में टी नटराजन सबसे बड़ी खोज साबित हुए हैं। नटराजन ने इस सीजन में स्टार स्पोर्ट्स के डाटा के मुताबिक 65-70 गेंदें यॉर्कर लेंथ फेंकी हैं। इस गेंदबाज ने कठिन परिस्थितियों में गेंदबाजी करते हुए 16 विकेट भी अपने नाम किये हैं। धोनी, कोहली व डिविलियर्स जैसे दिग्गजों को नटराजन ने अपना शिकार बनाया है।

इसके अलावा टीम के लिए एक और सकारात्मक बात ये रही कि केन विलियमसन ने अपनी बल्लेबाजी में विविधता दिखाई है। विलियमसन को टी-20 का स्पेशलिस्ट बल्लेबाज नहीं माना जाता है, लेकिन जिस अंदाज में उन्होंने इस सीजन में बल्लेबाजी की है, उससे एसआरएच को आने वाले सीजन में और फायदा होगा।

कहां करना पड़ा संघर्ष

हैदराबाद की इस फ्रेंचाइजी का टॉप 4 सेट है, लेकिन उसके बाद 5,6,7 का क्रम इस सीजन में अनुभवहीन नजर आया। युवा प्रियम गर्ग, अब्दुल समद और अभिषेक शर्मा ने टुकड़ों में प्रभावित किया, लेकिन उनमें अनुभव की कमी साफ नजर आई। इसके अलावा विजय शंकर का चोटिल हो जाना भी टीम को काफी पड़ा।

इसके अलावा टीम का सबसे मजबूद पक्ष गेंदबाजी में एकरुपता होना भी टीम को भारी पड़ा। टीम के ज्यादातर तेज गेंदबाज स्विंग गेंदबाजी करते हैं, ऐसे में राशिद खान को छोड़कर विपक्षी बल्लेबाजों के आक्रामक रुख पर लगाम लगाने वाले गेंदबाज की कमी साफ झलकी। ऐसे में टीम को एक अदद स्पीडस्टर गेंदबाज की दरकार है।

आगे क्या?

इस सीजन में टीम प्रबंधन ने मोहम्मद नबी की क्षमताओं का बढ़िया उपयोग नहीं किया। बतौर बल्लेबाज नबी फिनिशर की अच्छी भूमिका निभा सकते थे, जबकि गेंदबाजी के दौरान स्पिन का अच्छा विकल्प बन सकते थे। इसके अलावा अगले सीजन में टीम को यूसुफ पठान की तरह भारतीय आक्रामक बल्लेबाज की दरकार होगी। हालांकि अब्दुल समद ने प्रभावित किया है और उनको बल्लेबाजी के दौरान 5-6 नंबर लगातार मौका देना होगा।

Leave a Response

Manoj Tiwari

The author Manoj Tiwari

100 MB Sports में कंटेट राइटर का पद संभालते हुए काम का लुत्फ उठा रहे हैं। कम बोलने में विश्वास और काम को ज्यादा तवज्जो देने में भरोसा रखते हैं। मुंबई में साल भर से ज्यादा समय बिता चुके हैं, शहर को लेकर खुद की अपनी राय रखते हैं। स्पोर्ट्स हमेशा से पसंदीदा बीट रही है, अपने करियर की पारी शुक्रवार मैगजीन से शुरू की, जो स्पोर्ट्सकीड़ा और स्पोर्ट्सवाला से होते हुए अब 100 MB Sports तक आ गयी है। बीच में हमने राजनीति से लेकर मनोरंजन और यात्रा बीट पर भी काम किया, लेकिन स्पोर्ट्स की भूख खत्म नहीं हुई। मायानगरी में जब काम नहीं कर रहे होते हैं, तो शहर घूम रहे होते हैं। अभी के लिए बस इतना ही। हमें और जानना है, तो लिखा हुआ पढ़ लीजिये।