close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

KYP: केन विलियमसन के करियर और रिकॉर्ड पर डालें एक नजर

मौजूदा समय में यदि क्रिकेट जगत में तीनों फार्मेट में टॉप-3 बल्लेबाजों को देखा जाए तो उसमें न्यूजीलैंड टीम के कप्तान केन विलियमसन का नाम जरूर शामिल होगा। इस बात में कोई संदेह नहीं है कि न्यूजीलैंड की तरफ से महान खिलाड़ी मार्टिन क्रो के बाद केन विलियमसन सबसे शानदार बल्लेबाज के तौर पर सामने आए हैं। एक गैर एशियाई मूल के खिलाड़ी होने के बावजूद केन विलियमसन काफी शानदार तरीके से एशियाई पिचों पर स्पिन गेंदबाजी खेलने की अपनी काबिलियित को कई बार दिखा चुके हैं।

केन के क्रिकेट में रुचि को लेकर बात की जाए तो उनके पिता ने एक समय पर इस खेल को खेला जबकि उनकी मां एक शानदार बॉस्केटबॉल खिलाड़ी थी। वहीं केन की बहनें वॉलीबॉल खिलाड़ी है। इससे आपको यह अंदाजा हो गया कि केन एक खेल परिवार से संबंध रखते हैं।

अंडर-19 विश्वकप में दिखाई झलक

साल 2008 में जब भारतीय अंडर-19 टीम ने विश्वकप में जीत हासिल की थी, तो उसमें टीम ने सेमीफाइनल मुकाबले में न्यूजीलैंड की टीम को मात देते हुए फाइनल मुकाबले में अपनी जगह को पक्का किया था। इस विश्वकप में न्यूजीलैंड अंडर-19 टीम की कप्तानी केन विलियमसन कर रहे थे। उन्होंने यहीं से यह झलक दिखा दी थी कि वह आने वाले समय के बेहद बड़े खिलाड़ी के तौर पर सामने आएंगे।

साल 2010 में मिला अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखने का मौका

केन विलियमसन को साल 2010 में न्यूजीलैंड टीम के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पहली बार खेलने का मौका मिला था। उन्हें अपना पहला मुकाबला श्रीलंका में खेली जा रही त्रिकोणीय वनडे सीरीज में भारत के खिलाफ दांबुला के मैदान में मिला। हालांकि अपने पहले वनडे मैच में केन कुछ अधिक खास नहीं कर सके और शून्य पर ही पवेलियन लौट गए थे, लेकिन उन्होंने गेंदबाजी में जरूर 1 विकेट हासिल किया था।

इसके बाद इसी साल केन विलियमसन को भारत के ही खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पहला कदम रखने का मौका मिला, जिसमें उन्होंने 6वें नंबर पर बल्लेबाजी करते शतकीय पारी खेल दी। यहां से केन ने टीम में अपनी जगह को पूरी तरह से पक्का कर लिया था।

केन के नाम दर्ज हैं ये रिकॉर्ड

अभी तक केन विलियमसन के अंतरराष्ट्रीय करियर को देखा जाए तो उनके नाम कई रिकॉर्ड भी देखने को मिल जाएंगे। केन न्यूजीलैंड टीम के लिए सबसे कम उम्र में वनडे में कप्तानी करने वाले खिलाड़ी हैं, जिसमें उन्होंने साल 2012 में वेस्टइंडीज़ के खिलाफ वनडे मैच में कप्तानी की थी। इस समय केन की उम्र 21 साल 332 दिन थी। वहीं केन का नाम डेब्यू टेस्ट मैच में शतक लगाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में भी शुमार है और वह साल 2019 के वनडे विश्वकप में एक कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी भी थे।

अभी तक ऐसा रहा है करियर

विलियमसन के अभी तक के अंतरराष्ट्रीय करियर को देखा जाए तो उन्होंने 84 टेस्ट मैचों में 53.6 के औसत से 7,129 रन बनाए हैं, जिसमें 24 शतक और 32 अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं। इसके अलावा केन वनडे में 151 मैचों में 47.49 के औसत से 6,174 रन बनाने में कामयाब रहे हैं। वनडे में केन के नाम 13 शतक और 39 अर्धशतकीय पारियां दर्ज हैं। केन का टी-20 में भी शानदार प्रदर्शन देखने को मिला है, जिसमें उन्होंने न्यूजीलैंड टीम के लिए 67 मैचों में 31.67 के औसत से 1,805 रन बनाए हैं। इसके अलावा केन ने न्यूजीलैंड के लिए अभी तक कुल 163 अंतरराष्ट्रीय मैचों में कप्तानी की है, जिसमें उन्होंने 86 में टीम को जीत दिलाई।

Leave a Response

Manoj Tiwari

The author Manoj Tiwari

100 MB Sports में कंटेट राइटर का पद संभालते हुए काम का लुत्फ उठा रहे हैं। कम बोलने में विश्वास और काम को ज्यादा तवज्जो देने में भरोसा रखते हैं। मुंबई में साल भर से ज्यादा समय बिता चुके हैं, शहर को लेकर खुद की अपनी राय रखते हैं। स्पोर्ट्स हमेशा से पसंदीदा बीट रही है, अपने करियर की पारी शुक्रवार मैगजीन से शुरू की, जो स्पोर्ट्सकीड़ा और स्पोर्ट्सवाला से होते हुए अब 100 MB Sports तक आ गयी है। बीच में हमने राजनीति से लेकर मनोरंजन और यात्रा बीट पर भी काम किया, लेकिन स्पोर्ट्स की भूख खत्म नहीं हुई। मायानगरी में जब काम नहीं कर रहे होते हैं, तो शहर घूम रहे होते हैं। अभी के लिए बस इतना ही। हमें और जानना है, तो लिखा हुआ पढ़ लीजिये।