close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

वनडे मैच की एक पारी में सबसे अधिक रन लुटाने वाले टॉप-5 गेंदबाज

क्रिकेट में इस समय तीनों में से 2 फॉर्मेट ऐसे हैं, जिसमें गेंदबाजों को कभी-कभी खुद को बचाना काफी मुश्किल भरा दिखाई देने लगता है। टी-20 फॉर्मेट की शुरुआत होने के बाद से बल्लेबाज अब और भी अधिक आक्रामक तरीके से खेलते हुए दिख जाते हैं। वहीं, पिच भी अब लिमिटेड ओवर्स फॉर्मेट में बल्लेबाजी के लिए मुफीद ही बनाई जाती है, ताकि अधिक से अधिक रन बन सकें।

ऐसे में गेंदबाजों के पास गलती करने की कोई गुंजाइश भी नहीं बचती है। वनडे में भी अब टीमें आसानी से 350 के करीब के लक्ष्य का पीछा करते हुए दिखती हैं, जिसमें गेंदबाजों के लिए बल्लेबाजों को रन बनाने से रोकना काफी मुश्किल भरा दिखाई देता है। हम आपको एक वनडे मैच में सबसे खराब इकॉनमी से रेट से अब गेंदबाजी करने वाले 5 गेंदबाजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने मैच में कम से कम 5 ओवर जरूर डाले हैं।

5 – माइकल लुईस(साल 2006, बनाम दक्षिण अफ्रीका, 113 रन 11.30 का इकॉनमी रेट)

दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच साल 2006 में जोहान्सबर्ग के मैदान पर खेला गया वनडे मैच आज भी करोड़ों क्रिकेट फैंस के दिलों में कैद है। इस मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 4 विकेट के नुकसान पर 434 रन बना दिए थे। उस समय किसी ने यह उम्मीद नहीं की थी कि अफ्रीका की टीम इस लक्ष्य को हासिल कर लेगी लेकिन हर्शल गिब्स के 175 और ग्रीम स्मिथ के 90 रनों की बदौलत उन्होंने इस लक्ष्य को 1 गेंद शेष रहते 9 विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया। ऑस्ट्रेलिया की तरफ से इस मैच में माइकल लुईस से बेहद खराब गेंदबाजी प्रदर्शन देखने को मिला था, जिसमें उन्होंने अपने 10 ओवरों में 11.30 के इकॉनमी रेट से 113 रन दे दिए थे।

4– राशिद खान (साल 2019, बनाम इंग्लैंड, 110 रन, 12.22 का इकॉनमी रेट)

साल 2019 के वनडे वर्ल्ड कप में मेजबान इंग्लैंड और अफगानिस्तान के बीच मैनचेस्टर के मैदान पर मैच खेला गया था। इस मैच में इंग्लैंड की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में 397 रन बना दिए थे, जिसमें टीम के कप्तान इयोन मोर्गन के बल्ले से 71 गेंदों में 148 रनों की पारी देखने को मिली थी। इस मैच में अफगान टीम के सबसे भरोसेमंद गेंदबाज राशिद खान का बेहद ही खराब प्रदर्शन देखने को मिला था। राशिद ने अपने 9 ओवरों में 12.22 के इकॉनमी रेट के साथ 110 रन दिए थे।

3– तापस बैश्या (साल 2005, बनाम इंग्लैंड, 87 रन, 12.42 का इकॉनमी रेट)

बांग्लादेश की टीम साल 2005 में इंग्लैंड के दौरे पर थी, जिसमें नेटवेस्ट वनडे सीरीज का चौथा मैच नॉटिंघम के मैदान पर खेला गया था। इस मैच में इंग्लैंड की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए जहां 50 ओवरों में 391 रन बना दिए थे, वहीं बांग्लादेश के गेंदबाज तापस बैश्या के लिए यह मैच किसी बुरे सपने से कम नहीं रहा था। तापस ने अपने 7 ओवरों में 12.42 के इकॉनमी रेट के साथ 87 रन दे दिए थे।

2 – स्टुअर्ट क्लार्क (साल 2006, बनाम वेस्टइंडीज, 12.42 का इकॉनमी रेट)

क्वालालंपुर में 2006 में भारत, ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के बीच त्रिकोणीय वनडे सीरीज खेली गई थी। इस सीरीज का चौथा मैच ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के बीच में खेला गया था, जिसमें ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट के नुकसान पर 272 रन बनाए थे। विंडीज टीम के लिए उस समय ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजी को देखते हुए लक्ष्य का पीछा करना आसान काम नहीं था। लेकिन क्रिस गेल और कप्तान ब्रायन लारा की शानदार अर्धशतकीय पारियों की बदौलत वेस्टइंडीज ने इस मैच को 3 विकेट से अपने नाम किया। वहीं, ऑस्ट्रेलिया की तरफ से गेंदबाजी में स्टुअर्ट क्लार्क सबसे महंगे साबित हुए जिन्होंने अपने 7 ओवरों में 12.42 के इकॉनमी रेट से कुल 87 रन दे दिए।

1 – जेसन होल्डर (साल 2019, बनाम इंग्लैंड, 12.57 का इकॉनमी रेट)

वेस्टइंडीज की टीम साल 2019 में इंग्लैंड के दौरे पर थी, जहां दोनों ही टीमों के बीच में सीरीज का चौथा वनडे मैच सेंट जॉर्ज में खेला गया। इस मैच में मेजबान टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित ओवरों में 6 विकेट के नुकसान पर 418 रन बना दिए, जिसमें जॉस बटलर के बल्ले से 77 गेंदों में 150 रनों की पारी देखने को मिली। वहीं, विंडीज कप्तान जेसन होल्डर से बेहद खराब गेंदबाजी प्रदर्शन देखने को मिला, जिसमें उन्होंने अपने 7 ओवरों में 12.57 के इकॉनमी रेट के साथ 88 रन लुटा दिए थे।

Leave a Response