close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

IND vs BAN: राजकोट में दिखा रोहित का तूफान, भारत ने दर्ज की बड़ी जीत

राजकोट में तूफान के आने की भविष्यवाणी तो पहले ही कर दी गई थी लेकिन वो तूफान रोहित शर्मा के बल्ले से आएगा इसे कोई नहीं जानता था। अपना ऐतिहासिक 100वां मुकाबला खेलने उतरे कप्तान रोहित शर्मा ने 43 गेंद में 85 रनों की धमाकेदार पारी खेल टीम को 8 विकेट से जीत दिला दी।

इस जीत के साथ टीम इंडिया ने तीन मैचों की सीरीज को 1-1 से बराबर कर दिया है। पहले मुकाबले को जीत कर बांग्लादेश ने सीरीज में रोमांच को बढ़ाया। भारत को इस अहम मुकाबले में हर हाल में जीत दर्ज करनी थी और इसमें सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाई कप्तान रोहित ने।

शतक से चूक गए रोहित

भारत के सामने 154 रनों का लक्ष्य था और बुलंद इरादे के साथ मैदान पर उतरे रोहित ने आते ही कोहराम मचाना शुरू दिया। बांग्लादेश का कोई भी गेंदबाज आज रोहित के पराक्रम के आगे टिक नहीं पाया। शिखऱ धवन के साथ पहले तो उन्होंने पॉवर प्ले में बांग्लादेश के गेंदबाजों की बखिया उधेड़ी फिर शतकीय साझेदारी भी कर ली।

पहले छह ओवर में भारत ने 63 रन बनाए थे जबकि 10वें ओवर में सौ रनों का आंकड़ा भी पार कर लिया। रोहित और शिखर ने इस दौरान पहले विकेट के लिए सबसे अधिक चार बार शतकीय साझेदारी करने का रिकॉर्ड अपने नाम किया।

रोहित ने महज 23 गेंद में अपना 18वां अर्द्धशतक पूरा किया। रोहित के तूफान को देखकर धवन ने स्ट्राइक को रोटेट करना ही उचित समझा। रोहित ने इस दौरान मोस्द्देक होस्सैन की जमकर खबर ली और 10वें ओवर की पहली तीन गेंद पर तीन छक्के लगाए।

11वें ओवर में धवन के रूप में भारत को पहला झटका लगा। धवन ने 27 गेंदों की अपना पारी मे 31 रन बनाए और इस दौरान कप्तान के साथ मिलकर 65 गेंद में 118 रनों की साझेदारी निभाई।

ऐसा लग रहा था कि रोहित अपने 100वें मुकाबले में टी20 करियर का पांचवां शतक पूरा कर लेंगे लेकिन 85 के स्कोर पर अमिनुल इस्लाम की गेंद की पर आउट हो गए। 43 गेंदों की अपनी पारी में रोहित ने 6 चौके और इतने ही गगनभेदी छक्के लगाए।

रोहित के आउट होने के बाद मैदान पर आए श्रेयस अय्यर ने 13 गेंद में नाबाद 24 रन बनाकर भारत को 26 गेंद पहले जीत दिला दी। अपनी छोटी सी पारी में उन्होंने 3 चौके और एक छक्का लगाया। लोकेश राहुल 8 रन बनाकर नाबाद रहे।

अच्छी शुरूआत को बेहतर अंजाम नहीं दे पाए बांग्लादेश के बल्लेबाज

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। हालांकि शुरुआती खेल में उनका दांव उलटा पड़ता दिख रहा था। लिटन दास (29) और मोहम्मद नईम (36) की सलामी जोड़ी ने 7.2 ओवरों में 60 रनों की साझेदारी कर टीम को ठोस शुरुआत दी। इस दौरान भारतीय फील्डरों ने कुछ मौके गंवाए।

रोहित तूफान

हालांकि पहली सफलता मिलते ही भारतीय गेंदबाजों ने वापसी कर ली। लिटन दास के आउट होने के बाद वाशिंगटन सुंदर ने नईम को पवेलियन भेजा और फिर युजवेन्द्र चहल ने मोर्चा संभाल लिया। उन्होंने पिछले मुकाबले के हीरो मुश्फिकुर रहीम (4) और फिर सौम्य सरकार (30) का विकेट लेकर मध्यक्रम में सेध लगा दी।

गिरते विकेट ने दबाव बनाया और अंत में बांग्लादेश के बल्लेबाज 6 विकेट पर 153 रन ही बना पाए।

भारत की ओर से चहल ने दो जबकि वाशिंगटन सुंदर, दीपक चाहर और खलील अहमद ने एक-एक विकेट लिए।

Leave a Response

Shashank

The author Shashank

2011 विश्व कप के साथ शशांक ने अपनी खेल पत्रकारिता की शुरआत की। क्रिकेट के मैदान से लेकर हर छोटी बड़ी खबरों पर इनकी नज़र रहती है। खेल की बारीकियों से लेकर रिकॉर्ड बुक तक, हर उस पहलू पर नजर होती है जिसे आप पढ़ना और जानना चाहते हैं। क्रिकेट के अलावा दूसरे खेलों में भी इनकी गहरी रूची है। कई बड़े मीडिया हाउस को अपनी सेवा दे चुके हैं।