close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

आज के दिन : साल 2016 में हैदराबाद ने जीता था अपना पहला आईपीएल खिताब

इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास में साल 2013 के सीजन में एक नई टीम सनराइजर्स हैदराबाद को शामिल किया गया। टीम अपने पहले ही सीजन में प्लेऑफ तक का सफर करने के साथ सभी को अचम्भे में डाल दिया था। लेकिन इसके बाद अगले 2 सीजन टीम ने सीजन का अंत 6वें स्थान पर रहते हुए किया। इसके बाद साल 2016 के आईपीएल सीजन में सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने इतिहास रच दिया।

इस सीजन टीम के कप्तान डेविड वार्नर और शिखर धवन की ओपनिंग जोड़ी ने टीम के लिए मुख्य तौर पर अधिकतर समय मैच विनिंग पारियां खेलने का काम किया। इसके चलते लीग स्टेज में जहां टीम ने 16 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर खत्म किया। वहीं एलिमिनेटर मैच में हैदराबाद ने पहले कोलकाता को 22 रनों से मात दी और फिर उसके बाद दूसरे क्वालीफायर मैच में उन्होंने गुजरात लायंस को 4 विकेट से हराते हुए अपने फाइनल में जगह को पक्का कर लिया।

फाइनल में टॉस जीतकर की बल्लेबाजी

सनराइजर्स हैदराबाद की टीम का फाइनल में मुकाबला रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम के साथ था। इस मैच में हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर ने टॉस जीतने के बाद पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। इसके बाद धवन और वार्नर की जोड़ी ने पहले 6 ओवरों में 59 रन बनाकर टीम को एक तेज शुरूआत देने का काम किया। हालांकि धवन पारी के 7वें ओवर में 28 के निजी स्कोर पर पवेलियन लौट गए, लेकिन वार्नर ने रनों की गति को धीमे नहीं पड़ने दिया।

15 ओवर तक स्कोर पहुंचा 140 रन

धवन का विकेट गवाने के बाद वार्नर ने पहले हेनरिक्स के साथ दूसरे विकेट के लिए 19 गेंदों में 34 रनों की साझेदारी की और फिर युवराज सिंह के साथ 22 गेंदों में 28 रन जोड़कर टीम के स्कोर को 15 ओवर में 140 के स्कोर तक पहुंचाने में अहम भूमिका अदा की थी। वार्नर मैच में 38 गेंदों में 69 रनों की पारी खेलने के बाद आउट हुए।

बेन कटिंग ने दिखाया बल्लेबाजी में कमाल

हैदराबाद टीम की कोशिश अंत के ओवरों मे तेजी से रन बनाकर स्कोर 200 के उपर पहुंचाना था। लेकिन 148 के स्कोर तक आधी टीम के पवेलियन लौट जाने से यह बेहद मुश्किल काम लग रहा था। ऐसे में बेन कटिंग ने अपनी बल्लेबाजी की प्रतिभा को दिखाते सिर्फ 15 गेंदों में 39 रनों की पारी खेल दी। जिसमें उन्होंने भुवनेश्वर कुमार के साथ 8वें विकेट के लिए 8 गेंदों में 34 रनों की साझेदारी कर दी। इसकी बदौलत 20 ओवरों के बाद सनराइजर्स हैदराबाद टीम की पारी 7 विकेट के नुकसान पर 208 पर खत्म हुई।

कोहली और गेल की पारी से लगा आरसीबी आसानी से हासिल करेगी जीत

फाइनल मुकाबले में 200 से अधिक रनों का पीछा करना आसान काम नहीं होने वाला था, लेकिन विराट कोहली और क्रिस गेल की ओपनिंग जोड़ी ने पहले विकेट के लिए सिर्फ 10 ओवरों में 112 रन जोड़ दिए। इससे सभी को ऐसा लगा कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम इस मुकाबले में आसानी से जीत हासिल कर लेगी। लेकिन 76 रन पर पवेलियन लौटने के साथ हैदराबाद टीम के वापसी के दरवाजे भी मैच में खुलते हुए दिखाई दिए।

हैदराबाद के गेंदबाजों ने दिखाया कमाल और दिलाई जीत

गेल का विकेट लेने के बाद हैदराबाद की टीम ने जल्द ही आरसीबी टीम के कप्तान विराट कोहली का भी विकेट झटकते हुए टीम को मैच में बड़ी सफलता दिलाने का काम किया। कोहली का विकेट आरसीबी के 140 के स्कोर पर गिरा था। इसके बाद जल्द ही एबी डी विलियर्स, लोकेश राहुल और शेन वाटसन का विकेट गंवाने से टीम अचानक दबाव में दिखाई देने लगी। इसके चलते आरसीबी की टीम 20 ओवरों के खत्म होने पर 200 रन ही बना सकी और हैदराबाद की टीम ने आईपीएल में अपना पहला खिताब 8 रनों की जीत के साथ हासिल किया।

Leave a Response