close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

आज के दिन: स्कॉटलैंड ने इंग्लैंड को दी थी वनडे में 6 रनों से मात

खेल के मैदान में हम सभी ने कई बार बड़े उलटफेर होते देखा है। जिसमें कोई कमजोर टीम अपने दिन पर मजबूत टीम को इस तरह से मात देती है, जैसे यह उसके लिए बेहद आसान काम था। क्रिकेट में बात की जाए तो यदि सबसे ज्यादा कोई टीम ऐसे उलटफेर का शिकार हुई है तो वह इंग्लैंड की टीम, जिसे कई मौकों पर ऐसे मैचों में मात मिली जिसकी किसी ने कल्पना नहीं की होती है। इन्हीं में से एक है स्कॉटलैंड का इंग्लैंड को हराना।

साल 2011 के वनडे विश्व कप इंग्लैंड को आयरलैंड के खिलाफ 300 से अधिक स्कोर करने के बावजूद हार का सामना करना पड़ा था। वहीं इस कड़ी में एक और मैच शामिल है, जिसमें स्कॉटलैंड ने इंग्लैंड को 6 रनों से हराकर बड़ा उलटफेर किया था। इंग्लैंड की टीम इस मैच में अपने सभी प्रमुख खिलाड़ियों के साथ मैदान में खेलने उतरी थी। 

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर चुनी गेंदबाजी 

इंग्लैंड टीम के कप्तान ऑयन मोर्गन ने स्कॉटलैंड के खिलाफ एकमात्र वनडे मैच की सीरीज में टॉस जीतने के बाद पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया। इसके बाद स्कॉटलैंड की टीम से पारी की शुरूआत करने के लिए उतरे मैथ्यी क्रास और कप्तान काएल कोएट्जर ने पहले विकेट के लिए 103 रनों की साझेदारी करते हुए टीम के लिए बड़े स्कोर की नींव को रख दिया था। लेकिन कप्तान कोएट्जर के 58 रन पर आउट होने के बाद क्रास भी जल्द ही 48 के निजी स्कोर पर अपना विकेट गंवा बैठे। 

मैक्लिओड ने निभाई जिम्मेदारी, पहुंचाया 350 के पार 

स्कॉटलैंड की टीम के ओपनिंग बल्लेबाजों की जिम्मेदारी निभाने के बाद अब मध्यक्रम को एक बड़े स्कोर पर पहुंचाना था। इसमें कैलम मैक्लिओड ने पहले बैरिंगटन के साथ मिलकर तीसरे विकेट के लिए 93 रन और उसके बाद मुंसी के साथ मिलकर चौथे विकेट के लिए 107 रनों की साझेदारी करते हुए टीम के स्कोर के 350 के पार पहुंचाने में अहम भूमिका अदा की। मैक्लिओड ने इस मैच में 94 गेंदों में 140 रनों की शानदार पारी खेली वहीं मुंसी ने 55 रनों की पारी खेली थी। जिससे स्कॉटलैंड की टीम ने 50 ओवरों में 5 विकेट के नुकसान पर 371 रन बनाने में कामयाब रही। इंग्लैंड के लिए इस मैच में आदिल रशीद और लियम प्लंकेट ने 2-2 विकेट हासिल किए थे। 

इंग्लैंड ने भी की शानदार शुरूआत 

372 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड टीम के ओपनिंग बल्लेबाज जेसन रॉय और जॉनी बेयरस्टो ने टीम को तेज शुरूआत देते हुए पहले विकेट के लिए 129 रनों की साझेदारी सिर्फ 13 ओवरों के अंदर कर दी। रॉय के 34 के निजी स्कोर पर आउट हो गए, वहीं जॉनी बेयरस्टो 59 गेंदों में धुआंधार 105 रनों की पारी खेलकर पवेलियन वापस लौटे। 

मार्क वॉट ने कराई स्कॉटलैंड की वापसी 

काफी तेजी से लक्ष्य का पीछा कर रही इंग्लैंड की टीम को रोकने का काम स्कॉटलैंड के बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज मार्क वॉट ने किया। जिन्होंने पहले जेसन रॉय का विकेट निकालकर टीम को पहली सफलता दिलाई, वहीं जो रूट को रन आउट कराने में अहम भूमिका अदा की। वहीं इसके बाद सैम बिलिंग्स और मोईन अली का विकेट हासिल करके टीम की मैच में पूरी तरह से वापसी करा दी थी। इसके चलते इंग्लैंड की टीम 48.5 ओवरों में 365 के स्कोर पर सिमट गई और टीम को 6 रनों से हार का सामना करना पड़ा था। स्कॉटलैंड के लिए इस मैच में वॉट ने जहां 3 विकेट हासिल किए, तो वहीं ईवांस और ब्रिगटन ने 2-2 विकेट हासिल किए थे। 

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 5 ऐसे खिलाड़ी जिन्होंने समय से पहले लिया संन्यास

Leave a Response