close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

आज के दिनः इंग्लैंड ने ओवल टेस्ट जीतकर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज की थी बराबर

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच टेस्ट क्रिकेट का इतिहास काफी पुराना है और दोनों देशों के बीच खेली जाने वाली ऐतिहासिक एशेज टेस्ट सीरीज का इंतजार पूरे क्रिकेट जगत के फैंस को काफी बेसब्री से रहता है। इन दोनों ही टीमों के बीच आखिरी एशेज सीरीज साल 2019 में इंग्लैंड में खेली गई थी। जिसके सभी मैच काफी रोमांचक देखने को मिले थे और इसी टेस्ट सीरीज में लीड्स के मैदान में बेन स्टोक्स की खेली गई मैच विनिंग पारी हमेशा सभी को याद रहेगी।

हालांकि ऑस्ट्रेलिया के तरफ से भी स्टीव स्मिथ का शानदार फॉर्म देखने को मिला था, जिसके चलते शुरुआती 4 टेस्ट मैच बीतने के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम 2-1 की बढ़त बनाए हुए थी। सीरीज का आखिरी टेस्ट मैच ओवल के मैदान में खेला जाना था और इसमें मेजबान टीम के लिए जीत हासिल करना बेहद जरूरी हो गया था, ताकि सीरीज को 2-2 से बराबरी पर खत्म किया जा सके।

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर ली गेंदबाजी

सीरीज के आखिरी टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान टिम पेन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। जिसके बाद मिचल मार्श और पैट कमिंस की खतरनाक गेंदबाजी के चलते इंग्लैंड की टीम अपनी पहली पारी में सिर्फ 294 का स्कोर बनाकर सिमट गई। इंग्लैंड की तरफ से इस पारी में सबसे ज्यादा 70 रन जॉस बटलर ने बनाए थे। वहीं मार्श ने जहां 5 तो कमिंस के खाते में 3 विकेट आए थे।

जोफ्रा ने समेटा ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी को जल्दी

अब इंग्लैंड के गेंदबाजों पर ऑस्ट्रेलियाई टीम की पहली पारी को जल्दी समेटने का सबसे बड़ा जिम्मा था। जिसमें मार्नश लाबुशेन और स्टीव स्मिथ ने जरूर एक अच्छी पारी खेली लेकिन इसके बावजूद टीम 225 के स्कोर पर ही सिमट गई थी। इंग्लैंड की तरफ से जोफ्रा आर्चर ने सिर्फ 62 रन देते हुए 6 विकेट हासिल किए तो वहीं सैम करन ने भी 3 विकेट अपने नाम किए थे।

जो डेनली की शानदार पारी से इंग्लैंड पहुंचा मजबूत स्थिति में

मेजबान टीम के लिए अपनी दूसरी पारी में अच्छा स्कोर बनाने की बड़ी जिम्मेदारी थी, जिसमें ओपनिंग बल्लेबाज जो डेनली ने शानदार 94 रनों की पारी खेली जिसके बाद बेन स्टोक्स ने 67 जबकि बटलर ने भी 47 रनों का योगदान दिया। इसकी बदौलत इंग्लैंड की टीम अपनी दूसरी पारी में 329 रनों का स्कोर बनाने में सफल रही और इससे ऑस्ट्रेलियाई टीम को मैच की चौथी पारी में 399 रनों का कठिन लक्ष्य मिला।

मैथ्यू वेड का शतक गया बेकार

किसी भी टीम के लिए ओवल के मैदान में चौथी पारी में 300 से अधिक रनों के लक्ष्य का पीछा करना आसान काम नहीं होता है। इसी का दबाव ऑस्ट्रेलियाई टीम की पारी में भी साफ तौर पर देखने को मिला। ओपनिंग बल्लेबाजों के 29 के स्कोर पर पवेलियन लौटने के बाद एक छोर से विकटों का पतन लगातार देखने को मिला। हालांकि मैथ्यू वेड ने जरूर 117 रनों की पारी खेली लेकिन वह टीम को 135 रनों की हार से नहीं बचा सके। इंग्लैंड के लिए मैच की चौथी पारी में स्टुअर्ट ब्रॉड और जैक लीच ने 4-4 विकेट हासिल किए थे।

ये भी पढ़ेंः जब ओवल में इंग्लैंड को भारत ने हराया

Leave a Response