close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

T20I में चेज करते हुए सबसे ज्यादा नॉट आउट रहने वाले खिलाड़ी

किसी भी बल्लेबाज के लिए लक्ष्य का पीछा करते समय अपनी टीम को जीत दिलाकर वापस नाबाद लौटना आसान काम नहीं होता है। लेकिन विश्व क्रिकेट में ऐसे कई खिलाड़ी मौजूद हैं, जिन्होंने इस काम को कई बार बड़ी ही आसानी से करके दिखाया है। वनडे क्रिकेट में बल्लेबाज के पास थोड़ा समय पिच पर बिताने के साथ पारी को संभालने की जिम्मेदारी होती है, लेकिन T20I क्रिकेट में उसके पास समय कम होता है। 

इसके चलते टी-20 क्रिकेट में सभी टीमें ऐसे खिलाड़ियों को शामिल करने की कोशिश करती हैं, जो मैदान पर उतरते ही बड़े शॉट खेलने की काबिलियत रखते हैं। हालांकि इस फॉर्मेट में भी कुछ ऐसे दिग्गज खिलाड़ी सामने आए हैं, जिन्होंने अपने खेल में थोड़ा सा बदलाव करते हुए वही काम टी-20 क्रिकेट में भी काफी बेहतर तरीके से अंजाम दिया है। हम आपको ऐसे 5 खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम को जीत दिलाकर वापस नाबाद पवेलियन लौटे हैं। 

5 – थिसारा परेरा (10 बार नाबाद) 

श्रीलंका टीम के आलराउंडर खिलाड़ी थिसारा परेरा ने टी-20 फॉर्मेट में खुद को कई बार एक महत्वपूर्ण खिलाड़ी के तौर पर साबित किया है। परेरा ने इस फॉर्मेट में गेंद और बल्ले से शानदार प्रदर्शन किया है। वह अपने अंतरराष्ट्रीय टी-20 करियर के दौरान लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम को 10 बार जीत दिलाकर वापस नाबाद पवेलियन लौटे हैं। 

4 – ऑयन मोर्गन (13 बार नाबाद) 

इंग्लैंड लिमिटेड ओवर्स टीम के वर्तमान कप्तान ऑयन मोर्गन ने टी-20 फॉर्मेट में एक विशेषज्ञ बल्लेबाज के तौर पर पहचाने जाते हैं। अभी तक मोर्गन ने 102 अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच खेले हैं, जिसमें वह 18 बार जहां पवेलियन नाबाद लौटे तो इसमें से 13 बार वह लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा करते हुए वापस आए हैं। मोर्गन ने अभी तक टी-20 में 29.63 के औसत से 2,311 रन बनाए हैं। 

3 – महेंद्र सिंह धोनी (15 बार नाबाद) 

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और बेस्ट फिनिशर के तौर पर पहचाने जाने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी का जलवा अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में भी देखने को मिला है। धोनी ने अपने करियर में 98 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं, जिसमें वह 15 बार टीम को जीत दिलाकर वापस नाबाद पवेलियन लौटने में कामयाब रहे हैं। 

2 – विराट कोहली (16 बार नाबाद) 

मौजूदा भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली को लिमिटेड ओवर्स क्रिकेट में लक्ष्य का पीछा करते हुए बेहद खतरनाक खिलाड़ी के तौर पर पहचाना जाता है। कोहली ने अभी तक अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में 89 मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 52.65 के औसत 3,159 रन बनाए हैं। वहीं इस दौरान कोहली 16 बार लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा करते हुए नाबाद पवेलियन वापस लौटे हैं। 

1 – शोएब मलिक (17 बार नाबाद) 

पाकिस्तान टीम के पूर्व कप्तान और दिग्गज बल्लेबाजों में शुमार किए जाने वाले शोएब मलिक का टी-20 फॉर्मेट में बेहद शानदार रिकॉर्ड देखने को मिलता है। मलिक ने अभी तक अपने अंतरराष्ट्रीय टी-20 करियर में 116 मैच खेले हैं, जिसमें वह 17 बार लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा करते हुए नाबाद पवेलियन वापस लौटे हैं। वहीं मलिक टी-20 अंतरराष्ट्रीय में 31.13 के औसत से 2,335 रन बना चुके हैं, जिसमें 8 अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं। 

Leave a Response