close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

टेस्ट क्रिकेट में नंबर 11 पर बल्लेबाजी करते हुए टॉप-5 सर्वश्रेष्ठ स्कोर 

समय के साथ क्रिकेट में भी काफी बदलाव देखने को मिला है। जहां पहले यह सिर्फ एक फॉर्मेट में खेला जाता था, तो वहीं मौजूदा समय में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर टेस्ट के अलावा वनडे और टी-20 फॉर्मेट देखने को मिलता है। जबकि एक और नए फॉर्मेट की शुरुआत घरेलू स्तर पर 100 गेंदों के टूर्नामेंट की हुई है, जिसे द हंड्रेड नाम दिया गया है। इन सभी के कारण अब टीमों में ऐसे खिलाड़ियों की मांग अधिक देखने को मिलती है, जो गेंदबाजी के साथ बल्लेबाजी भी कर सकें इसका सबसे बड़ा लाभ टेस्ट फॉर्मेट में देखने को मिलता है, जहां टीम के पास नंबर 11 तक ऐसे खिलाड़ी होते हैं जो बल्लेबाजी में भी थोड़ा योगदान देने में सक्षम हैं

10 से 15 साल पहले ऐसा देखने को काफी कम मिलता था कि किसी टीम के अंतिम 4 खिलाड़ियों का टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजी औसत 15 से अधिक हो। लेकिन अब अधिकतर टीमों के पास निचले क्रम में ऐसे खिलाड़ी हैं जिनका औसत 20 से अधिक है। हम आपको टेस्ट इतिहास में नंबर-11 पर बने अभी तक के सर्वाधिक स्कोर के बारे में बताने जा रहे हैं। 

 रिचर्ड कॉलिंग ( बनाम पाकिस्तान, 68 रन नाबाद) 

साल 1973 में पाकिस्तान की टीम न्यूजीलैंड के दौरे पर थी, जिसमें दोनों टीमों के बीच ऑकलैंड के मैदान पर टेस्ट मैच खेला जा रहा था। इस मैच में कीवी टीम की तरफ से खेल रहे बाएं हाथ के तेज गेंदबाज रिचर्ड कॉलिंग टीम की पहली पारी में जब 11 नंबर पर बल्लेबाजी के मैदान में उतरे तो उन्होंने 6 चौकों और 1 छक्के की मदद से 68 रनों की नाबाद पारी खेल दी। 

 जहीर खान (बनाम बांग्लादेश, 75 रन) 

भारतीय टीम के पूर्व बाएं हाथ के तेज गेंदबाज जहीर खान ने अपने करियर में कई बार निचले क्रम पर बल्लेबाजी करते हुए टीम के लिए महत्वपूर्ण योगदान देने का काम किया है। साल 2004 में बांग्लादेश के खिलाफ ढाका में टेस्ट मैच के दौरान टीम इंडिया की पहली पारी में जहीर 11वें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए मैदान पर उतरे और उन्होंने 10 चौकों और 2 छक्कों की मदद से 115 गेंदों का सामना करते हुए 75 रनों की पारी खेल दी थी। 

 जेम्स एंडरसन (बनाम भारत, 81 रन) 

टेस्ट क्रिकेट में मौजूदा समय के टॉप-3 विकेट हासिल करने वाले गेंदबाजों में से एक इंग्लैंड के जेम्स एंडरसन ने साल 2014 में भारत के खिलाफ नॉटिंघम के मैदान पर शानदार पारी खेली थी। इस मैच में एंडरसन ने 11वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 130 गेंदों का सामना किया और 81 रन बना दिए, जिसमें 17 चौके भी शामिल थे। 

– टीनो बेस्ट (बनाम इंग्लैंड, 95 रन) 

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच साल 2012 में बर्मिंघम के मैदान पर खेला गया टेस्ट मैच टीनो बेस्ट की पारी के लिए अधिक पहचाना जाएगा। इस मैच में बेस्ट ने 11वें नंबर पर खेलते हुए 14 चौके और 1 छक्के की मदद से 112 गेंदों में 95 रनों की पारी खेल दी थी। 

 एश्टन एगर (बनाम इंग्लैंड, 98 रन) 

साल 2013 में ऑस्ट्रेलियाई टीम के बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज एश्टन एगर ने इंग्लैंड के खिलाफ नॉटिंघम टेस्ट मैच में नंबर 11 पर खेलते हुए अपनी बल्लेबाजी प्रतिभा को भी दर्शाया था। एगर ने 101 गेंदों का सामना करते हुए 12 चौके और 2 छक्कों की मदद से 98 रनों की पारी खेली थी। 

नताली सिवर: इंग्लैंड महिला क्रिकेट टीम की सबसे बड़ी मैच विनर खिलाड़ी

Leave a Response