close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

कोरोना के खिलाफ जंग में शेल्डन जैकसन ने गौतम गंभीर फाउंडेशन को दिया दान

आईपीएल 2021 का सफर जारी है, जिसमें खिलाड़ी, टीम स्टाफ व टूर्नामेंट से जुड़े आधिकारी बॉयो-बबल और कड़े प्रोटोकॉल में अपनी भूमिका निभा रहे हैं। हालांकि भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर अपने चरम पर है और देश के सामने बड़ी चुनौती खड़ी हुई है। इस संकट की घड़ी में कई दिग्गज वर्तमान व पूर्व क्रिकेटर लोगों की मदद के लिए कोई न कोई प्रयास कर रहे हैं।

कमिंस व ली ने दिया अनुदान

जहां तक आईपीएल की बात है, तो सबसे पहले ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर पैट कमिंस ने 50000 डॉलर का अनुदान पीएम केयर्स फंड में दिया। जिससे उन लोगों के लिए ऑक्सीजन खरीदी जा सके, जो इस समय प्राणवायु के लिए बेबस हैं। कमिंस से ही प्रेरित होकर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने एक बिटक्वाइन भारत को दान दिया है। ली ने जो 1 बिटक्वाइन दान किया है, उसकी अनुमानित कीमत तकरीबन 44 लाख रुपए है।

वहीं इस लिस्ट में अब एक और केकेआर के खिलाड़ी शेल्डन जैकसन का नाम जुड़ गया है। जैकसन ने गौतम गंभीर फाउंडेशन को इस कठिन वक्त लोगों तक मदद पहुंचाने के लिए बिना राशि उजागर किये गुप्तदान किया है। अपने सोशल मीडिया हैंडल से उन्होंने इस बात की जानकारी सभी को दी है।

केकेआर के कैंप का हिस्सा हैं शेल्डन

शेल्डन जैकसन फिलहाल आईपीएल में केकेआर के कैंप का हिस्सा हैं, हालांकि उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला है। घरेलू क्रिकेट में लगातार शानदार प्रदर्शन के बूते आईपीएल में जगह पाने वाले जैकसन बीते दो वर्ष से केकेआर की टीम का हिस्सा हैं, फिलहाल वह अपने मौके का इंतजार बेसब्री से कर रहे हैं।

Leave a Response

Manoj Tiwari

The author Manoj Tiwari

100 MB Sports में कंटेट राइटर का पद संभालते हुए काम का लुत्फ उठा रहे हैं। कम बोलने में विश्वास और काम को ज्यादा तवज्जो देने में भरोसा रखते हैं। मुंबई में साल भर से ज्यादा समय बिता चुके हैं, शहर को लेकर खुद की अपनी राय रखते हैं। स्पोर्ट्स हमेशा से पसंदीदा बीट रही है, अपने करियर की पारी शुक्रवार मैगजीन से शुरू की, जो स्पोर्ट्सकीड़ा और स्पोर्ट्सवाला से होते हुए अब 100 MB Sports तक आ गयी है। बीच में हमने राजनीति से लेकर मनोरंजन और यात्रा बीट पर भी काम किया, लेकिन स्पोर्ट्स की भूख खत्म नहीं हुई। मायानगरी में जब काम नहीं कर रहे होते हैं, तो शहर घूम रहे होते हैं। अभी के लिए बस इतना ही। हमें और जानना है, तो लिखा हुआ पढ़ लीजिये।