close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

क्या एबी डिविलियर्स को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी करनी चाहिए

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम से जिस समय एबी डिविलियर्स ने साल 2018 में उस समय अपने फैसले से सभी को चौंका दिया था, जब उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों ही फॉर्मेट से अचानक संन्यास लेने का ऐलान कर दिया था। जिसके बाद दक्षिण अफ्रीका टीम को अगले साल होने वाले आईसीसी वर्ल्डकप की तैयारियों के तौर पर एक बड़ा झटका लगा था।

डिविलियर्स के संन्यास लेने के बाद से लगातार उनकी टीम में दुबारा वापसी को लेकर भी बातें चलती रही हैं, लेकिन अभी तक कुछ भी साफ नहीं हो सका है। अब इस साल के आखिर में होने वाले आईसीसी टी-20 वर्ल्डकप से पहले डिविलियर्स की टीम में वापसी को लेकर फिर से बातें चल रही हैं। पिछले साल डी विलियर्स ने टी-20 विश्वकप के जरिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी की इच्छा जाहिर की थी, लेकिन कोरोना महामारी के चलते टूर्नामेंट को टालना पड़ा।

क्रिकेट साउथ अफ्रीका निदेशक ने कही यह बात

क्रिकेट साउथ अफ्रीका के वर्तमान निदेशक पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी और दिग्गज कप्तान ग्रीम स्मिथ ने अपने एक बयान के जरिए कुछ समय पहले इस बात की तरफ इशारा किया था कि जून महीने में वेस्टइंडीज के खिलाफ होने वाली 5 मैचों की टी-20 सीरीज के लिए टीम में डिविलियर्स की वापसी के साथ क्रिस मॉरिस और इमरान ताहिर को भी शामिल किया जा सकता है।

आईपीएल के 14वें सीजन में किया शानदार प्रदर्शन

डिविलियर्स ने इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन को अनिश्चितकाल तक स्थगित किए जाने से पहले अपने प्रदर्शन से सभी को काफी प्रभावित किया। जिसमे उन्होंने ना सिर्फ अपनी शानदार फिटनेस का नमूना पेश करते हुए पूरे 20 ओवरों तक विकेटकीपर की भूमिका अदा कि वहीं बल्लेबाजी में सभी को मिस्टर 360 डिग्री भी दिखाई दिए। डिविलियर्स ने इस सीजन 6 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 51.75 के औसत से 207 रन बनाए जिसमें उनका स्ट्राइक रेट 164.29 का रहा। डिविलियर्स ने चेन्नई के मैदान में कोलकाता के खिलाफ जिस तरह से सिर्फ 34 गेंदों में 76 रनों की पारी खेली उससे सभी अचम्भे में पड़ गए थे, क्योंकि यह पिच बल्लेबाजी के लिए बेहद मुश्किल थी।

Leave a Response