close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

क्या फाफ डुप्लेसिस के अंतरराष्ट्रीय करियर को अब खत्म माना जाए

दक्षिण अफ्रीका टीम के पूर्व कप्तान फाफ डुप्लेसिस का अंतरराष्ट्रीय करियर अब लगभग समाप्त माना जा रहा है। दरअसल पिछले कुछ समय से डुप्लेसिस अपने फॉर्म से जूझते हुए दिखाई दे रहे हैं और वह टीम के लिए एक बल्लेबाज के तौर पर अधिक योगदान नहीं दे पा रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड भी अब डुप्लेसिस को लेकर उतनी दिलचस्पी नहीं दिखा रहा और उसका ध्यान युवा खिलाड़ियों को तैयार करने पर है।

डुप्लेसिस ने इस साल की फरवरी में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास का ऐलान करते हुए कहा था कि अब वह लिमिटेड ओवर्स में अपना ध्यान लगाना चाहते हैं। जिसमें उनका इशाला अगले 2 सालों में होने वाले आईसीसी टी-20 वर्ल्डकप को लेकर था। लेकिन डुप्लेसिस को पाकिस्तान के खिलाफ हुई घरेलू टी-20 सीरीज में भी टीम में चयनकर्ताओं ने शामिल नहीं किया था।

मौजूदा समय में सबसे अनुभवी खिलाड़ी

यदि मौजूदा साउथ अफ्रीका की लिमिटेड ओवर्स की टीम पर एक नजर डाली जाए तो उनके पास फाफ डुप्लेसिस से अधिक अनुभवी खिलाड़ी फिलहाल मौजूद नहीं है। फाफ ने जहां 143 वनडे मैचों में 46.57 के औसत से 5,507 रन बनाए हैं। इसमें 12 शतकीय और 35 अर्धशतकीय पारियां दर्ज हैं। वहीं टी-20 क्रिकेट में फाफ ने 50 मैच खेलते हुए 35.53 के औसत से 1,528 रन बनाए हैं। फाफ के नाम अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में 1 शतकीय और 10 अर्धशतकीय पारी दर्ज हैं।

कप्तान के तौर पर ऐसा रहा प्रदर्शन

फाफ डुप्लेसिस ने साल 2016 में साउथ अफ्रीका टेस्ट टीम के कप्तानी का भार संभाला था। जिसके बाद टीम ने उनके नेतृत्व में 36 टेस्ट मैच खेले जिसमं 18 में टीम को जीत हासिल हुई जबकि 15 में हार का सामना करना पड़ा। इसके अलावा वनडे में यदि फाफ के कप्तानी के रिकॉर्ड को लेकर बात की जाए को उन्होंने 39 मैचों में 28 में टीम को जीत दिलाई है जबकि 10 में हार का सामना करना पड़ा है। इसके अलावा टी-20 क्रिकेट में भी फाफ ने अफ्रीका के लिए 40 मैचों में कप्तानी करते हुए 25 में जीत दिलाई है।

आईपीएल के 14वें सीजन में दिखाया फॉर्म

आईपीएल का 14वां सीजन कोरोना संक्रमण के चलते 29 मैच के बाद अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है। लेकिन फाफ ने चेन्नई सुपर किंग्स के लिए पारी की शुरूआत करते हुए 7 मैचों में 64 के औसत से 320 रन बना चुके थे। जिसमें उनके नाम पर 4 अर्धशतकीय पारियां दर्ज थी। हालांकि फाफ के इस प्रदर्शन को देखने के बाद भी साउथ अफ्रीका टीम के चयनकर्ताओं ने उन्हें वेस्टइंडीज के दौरे पर होने वाली 5 मैचों की टी-20 सीरीज के लिए नहीं चुना।

क्या फाफ को मिलेगा मौका

इस साल के आखिर में होने वाले आईसीसी टी-20 वर्ल्डकप को लेकर यदि सिर्फ बात की जाए तो वह भारत या फिर यूएई में हो सकता है। जिसमें दोनों ही जगहों पर फाफ को खेलने का अफ्रीका टीम के बाकी खिलाड़ियों से कहीं अधिक अनुभव है, जो टीम को इन परिस्थितियों में काफी लाभ पहुंचा सकता है। जिसे देखते हुए उन्हें शायद इस टी-20 वर्ल्डकप में मौका दिया जा सकता है।

Leave a Response