close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

स्टीव स्मिथ : लेग स्पिनर जो बना दुनिया का सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज

ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ का जन्म 2 जून सन् 1989 में सिडनी के न्यू साउथ वेल्स में हुआ था। स्मिथ ने अपने करियर का आगाज बतौर लेग स्पिनर व निचले क्रम के बल्लेबाज के रूप में किया। लेकिन देखते ही देखते वह दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज बन गए।

स्मिथ का ऐसे शुरू हुआ सफर

साल 2008 के अंडर-19 विश्वकप में स्टीव स्मिथ को ऑस्ट्रेलियाई टीम में शामिल किया गया। मलेशिया में हुए टूर्नामेंट में स्मिथ ने चार मैचों में ऑलराउंड प्रदर्शन करते हुए 114 रन और 7 विकेट अपने नाम किये। जिसके बाद उन्हें न्यू साउथ वेल्स की प्रथम श्रेणी टीम में जगह मिली। चैंपियंस लीग टी-20 टूर्नामेंट में स्मिथ ने फाइनल में न्यू साउथ वेल्स की जीत में अहम योगदान दिया। उन्होंने बल्ले से 33 रन और गेंद से दो बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई। इसी वर्ष स्मिथ ने बिग बैश लीग में भी डेब्यू किया जहां उन्होंने सबसे ज्यादा 9 विकेट झटके।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्मिथ

साल 2010 में स्टीव स्मिथ ने पाकिस्तान के खिलाफ अपने करियर का पहला टी-20 मैच खेला। इसी साल स्मिथ ने वेस्टइंडीज के खिलाफ अपने वनडे करियर का भी आगाज किया। साल 2010 में वेस्टइंडीज में हुए टी-20 विश्वकप में स्टीव स्मिथ ने टूर्नामेंट में संयुक्त रूप से सबसे ज्यादा 11 विकेट झटके। जुलाई 2010 में उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम की कैप भी मिल गई। जहां उन्हें टीम में बतौर गेंदबाज ऑलराउंडर शामिल किया गया था। हालांकि साल 2013 तक स्मिथ की जगह टीम में पक्की नहीं थी। लेकिन इसके बाद जब उन्होंने वापसी की तो उनके करियर में एक ऐसा निर्णायक मोड़ आया जहां वह गेंदबाज से बेहतर बल्लेबाज बन गए। स्मिथ ने साल 2015 के विश्वकप में ऑस्ट्रेलिया की खिताबी जीत में अहम योगदान दिया। जिसके बाद उन्हें टीम की कप्तान नियुक्त किया गया।

आधुनिक ब्रेडमैन

आईपीएल में ऐसे मिला मौका

इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल में स्टीव स्मिथ पहली बार साल 2010 में चोटिल जेसी राइडर की जगह आरसीबी का हिस्सा बने। हालांकि उन्हें सीजन में एक भी मैच खेलने को नहीं मिला। साल 2011 में स्मिथ को कोच्चि टस्कर्स ने खरीदा, लेकिन वह चोट की वजह से नहीं खेल पाए। लेकिन इसी सीजन में उन्होंने बिग बैश लीग में धमाकेदार प्रदर्शन किया और उनपर भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली की नजर पड़ी। साल 2012 के आईपीएल में स्मिथ को चोटिल मिचेल मार्श की जगह पुणे वारियर्स इंडिया टीम में जगह मिली। जहां स्मिथ ने अपने डेब्यू मैच में ही ऑलराउंड प्रदर्शन करते हुए मैन ऑफ द मैच हासिल किया और बाद में जो हुआ वह इतिहास बन गया। फिलहाल वह आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के कप्तान हैं।

बॉल टेंपरिंग विवाद और स्मिथ की वापसी

साल 2018 में ऑस्ट्रेलियाई टीम स्टीव स्मिथ की कप्तानी में दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर गई थी। जहां टीम का प्रदर्शन बेहद खराब था, लेकिन इस सीरीज में बॉल टेंपरिंग घटना का खुलासा हुआ। जिसमें बतौर कप्तान स्मिथ पर क्रिकेट को शर्मसार करने का आरोप लगा और उन्हें डेविड वॉर्नर और कैमरून बैनक्रॉफ्ट के साथ साल भर के लिए बैन झेलना पड़ा। साल 2019 के विश्वकप से स्टीव स्मिथ ने ऑस्ट्रेलियाई टीम में वापसी की, जहां उन्होंने चार पचासे के साथ 379 रन बनाए। लेकिन स्मिथ ने असल वापसी एशेज 2019 में की, जहां इस बल्लेबाज़ ने इतिहास रचते हुए तीन मैचों में 110.57 के औसत से 774 रन बनाए।

टेस्ट में नंबर एक स्मिथ

स्मिथ के रिकॉर्ड

स्टीव स्मिथ दुनिया के छठे ऐसे बल्लेबाज हैं, जिनके नाम सबसे तेज 10 हजार अंतरराष्ट्रीय रन बनाने का रिकॉर्ड दर्ज है। टेस्ट क्रिकेट में वह सबसे तेज 7000 रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। वह दुनिया के सिर्फ दूसरे टेस्ट क्रिकेटर हैं, जिसने चार कैलेंडर वर्ष में लगातार एक हजार से ज्यादा रन बनाए हैं। टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में एक ही टीम के खिलाफ लगातार 10 पारियों में 50 या उससे ज्यादा रन बनाने वाले वह एकमात्र बल्लेबाज हैं। आईसीसी टेस्ट प्लेयर ऑफ द इयर अवार्ड एक बार से ज्यादा जीतने वाले वह एकमात्र क्रिकेटर हैं। स्मिथ के रिकॉर्ड्स की लिस्ट की फेहरिस्त काफी लंबी है, जिसे एक लेख में समेटना नामुमकिन है।

डैनी और स्मिथ की लव स्टोरी

साल 2017 में स्टीवन स्मिथ ने 26 वर्षीय डैनी विलिस को रॉकफेलर सेंटर की छत पर घुटनों के बल बैठकर प्रपोज किया था। बॉल टेंपरिंग विवाद से उबरने में डैनी ने उनकी खूब मदद की और इस दौरान एक वर्ष के ब्रेक के चलते दोनों का रिश्ता और परवान चढ़ा। साल 2018 में इस जोड़े ने शादी रचा ली थी। आपको बता दें कि स्मित और डैनी की पहली मुलाकात एक बीयर बार में हुई थी।

स्टीव स्मिथ ने कहा बल्लेबाजी के सारे रिकॉर्ड तोड़ देंगे विराट कोहली

Leave a Response

Manoj Tiwari

The author Manoj Tiwari

100 MB Sports में कंटेट राइटर का पद संभालते हुए काम का लुत्फ उठा रहे हैं। कम बोलने में विश्वास और काम को ज्यादा तवज्जो देने में भरोसा रखते हैं। मुंबई में साल भर से ज्यादा समय बिता चुके हैं, शहर को लेकर खुद की अपनी राय रखते हैं। स्पोर्ट्स हमेशा से पसंदीदा बीट रही है, अपने करियर की पारी शुक्रवार मैगजीन से शुरू की, जो स्पोर्ट्सकीड़ा और स्पोर्ट्सवाला से होते हुए अब 100 MB Sports तक आ गयी है। बीच में हमने राजनीति से लेकर मनोरंजन और यात्रा बीट पर भी काम किया, लेकिन स्पोर्ट्स की भूख खत्म नहीं हुई। मायानगरी में जब काम नहीं कर रहे होते हैं, तो शहर घूम रहे होते हैं। अभी के लिए बस इतना ही। हमें और जानना है, तो लिखा हुआ पढ़ लीजिये।