close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 में इन 5 खिलाड़ियों पर रहने वाली हैं सभी की नजरें

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 का रोमांच 17 अक्टूबर से शुरू हो चुका है जिसमें पहले क्वालिफायर राउंड के मुकाबले खेले जायेंगे और उसके बाद 23 अक्टूबर से सुपर-12 के मुकाबलों की शुरुआत होगी। इस बार टीमों को 2 ग्रुप में बांटा गया है जिसमें प्रत्येक ग्रुप में 6-6 टीमों को जगह दी गई है। ओमान और यूएई में खेले जाने वाले इस मेगा इवेंट में भारत और पाकिस्तान के अलावा गत विजेता वेस्टइंडीज भी ट्रॉफी जीतने की प्रबल दावेदार मानी जा रही है।

यूएई और ओमान में मैच होने की वजह से स्पिन गेंदबाजों की भूमिका इस टी-20 वर्ल्ड कप में काफी अहम होने वाली है। इसके चलते ऐसे बल्लेबाजों की जिम्मेदारी भी काफी बढ़ जाती है जो स्पिन गेंदबाजी का सामना बेहतर तरीके से करना जानते हैं। हम आपको ऐसे 5 खिलाड़ियों के नाम बताने जा रहे हैं, जिनके प्रदर्शन पर इस टी-20 वर्ल्ड कप में सभी की नजरें रहेंगी।

5 – आंद्रे रसल (वेस्टइंडीज)

वेस्टइंडीज टीम के सबसे प्रमुख खिलाड़ियों में से एक आंद्रे रसल गेंद और बल्ले दोनों से टीम के लिए मैच विनर खिलाड़ी के तौर पर पहचाने जाते हैं। आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स टीम का हिस्सा रहने वाले रसल भले ही फिटनेस के कारण आखिरी के कुछ महत्वपूर्ण मैच नहीं खेल सके, लेकिन वह अब टी-20 वर्ल्ड कप में खेलने के लिए पूरी तरह फिट हैं। रसल के टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर पर नजर डाली जाए तो उन्होंने 62 मुकाबलों में 716 रन बनाने के साथ 32 विकेट हासिल किए हैं।

4 – राशिद खान (अफगानिस्तान)

अफगानिस्तान टीम इस बार टी-20 वर्ल्ड कप में पहले ही सुपर-12 के लिए क्वालीफाई कर चुकी है जिसमें वह भारत और पाकिस्तान जैसी मजबूत टीमों के साथ ग्रुप-2 में शामिल है। अफगानिस्तान टीम के लेग स्पिनर राशिद खान को यूएई के हालात में खेलना किसी भी दिग्गज बल्लेबाज के लिए आसान काम नहीं होने वाला है। राशिद ने हाल में खत्म हुए आईपीएल 2021 सीजन में कुल 18 विकेट अपने नाम किए थे। वहीं, राशिद बल्ले से भी निचले क्रम में महत्वपूर्ण योगदान देने की काबिलियत रखते हैं।

3 – तबरेज शम्सी (दक्षिण अफ्रीका)

दक्षिण अफ्रीका की टीम भले ही इस टी-20 वर्ल्ड कप में एक दावेदार के तौर पर नहीं खेल रही हो लेकिन उन्हें हल्के में लेने की भूल कोई भी टीम नहीं करना चाहेगी। अफ्रीका टीम का हिस्सा बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज तबरेज शम्सी इस समय टी-20 गेंदबाजी रैंकिंग में 775 अंकों के साथ पहले स्थान पर काबिज हैं। आईपीएल के दूसरे फेज में शम्सी राजस्थान रॉयल्स टीम का हिस्सा थे, जिससे उन्हें वहां की पिचों का बेहतर तरीके से अंदाजा भी हो चुका है। दक्षिण अफ्रीका के लिए शम्सी का प्रदर्शन उनके इस टी-20 वर्ल्ड कप में आगे की राह को तय कर सकता है।

2 – बाबर आजम (पाकिस्तान)

पाकिस्तान की टीम को यूएई में बाकी टीमों के मुकाबले पिछले कुछ सालों में सबसे ज्यादा क्रिकेट खेलने का अनुभव हासिल है, जिसके चलते टीम इस टी-20 वर्ल्ड कप में एक प्रमुख दावेदार के तौर पर खेलने उतरने वाली है। पाक टीम के कप्तान बाबर आजम के प्रदर्शन पर भी सभी की नजरें रहेंगी। बाबर आजम इस समय अंतरराष्ट्रीय टी-20 बल्लेबाजी रैंकिंग में दूसरे स्थान पर काबिज हैं। वहीं, कुछ दिन पहले ही वह टी-20 फॉर्मेट में सबसे तेज 7000 रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बने थे। अंतरराष्ट्रीय टी-20 में बाबर आजम का बल्लेबाजी औसत 46.89 का है जिसमें 1 शतकीय पारी के साथ 20 अर्धशतकीय पारियां भी शामिल हैं।

1 – रोहित शर्मा (भारत)

भारतीय टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा के लिए बतौर ओपनर यह टी-20 वर्ल्ड कप काफी महत्वपूर्ण होने वाला है। भले ही आईपीएल 2021 के दूसरे फेज में उनका फॉर्म उस तरह का देखने को नहीं मिला जिसकी उम्मीद की जा रही थी, लेकिन आईसीसी टूर्नामेंट में उनका प्रदर्शन अभी तक शानदार ही देखने को मिला है। टी-20 अंतरराष्ट्रीय में फिलहाल रोहित शर्मा एकलौते ऐसे बल्लेबाज हैं, जिनके नाम 4 शतकीय पारियां दर्ज हैं।

Leave a Response