close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

टी-20 वर्ल्ड कप में यह 5 खिलाड़ी अपनी टीमों के लिए साबित हो सकते हैं X-फैक्टर

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 की शुरुआत होने का इंतजार करोड़ो क्रिकेट फैंस काफी बेसब्री से कर रहे थे। ओमान और यूएई में खेले जाने वाले इस मेगा इवेंट में कुल 16 टीमें हिस्सा ले रही हैं, जिसकी शुरुआत 17 अक्टूबर से क्वालिफायर राउंड मैचों के साथ होगी और इससे 4 टीमें सुपर-12 के लिए क्वालिफाई करेंगी।

इस बार भी सभी टीमों के पास एक से बढ़कर एक शानदार खिलाड़ी देखने को मिल रहे हैं, जो अपनी टीम के लिए मैच विनिंग प्रदर्शन करने का दम रखते हैं। टी-20 एक ऐसा फॉर्मेट है जहां कोई एक खिलाड़ी टीम के लिए एक्स फैक्टर की तरह साबित हो सकता है। हम आपको ऐसे 5 खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो अपनी-अपनी टीमों के लिए एक्स फैक्टर के तौर पर खेलने वाले हैं।

5 – हेडन वाल्श (वेस्टइंडीज)

वेस्टइंडीज टीम के युवा लेग स्पिन गेंदबाज हेडन वाल्श ने कुछ ही समय में अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित कर दिया था। वेस्टइंडीज और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुई टी-20 सीरीज में वाल्श ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को सबसे ज्यादा परेशान किया। वाल्श अभी तक 3 वनडे मैचों में 7 विकेट तो वहीं 5 टी-20 मैचों में 12 विकेट हासिल कर चुके हैं। यूएई में होने वाले इस टी-20 वर्ल्ड कप के विकटों पर स्पिन गेंदबाज काफी प्रमुख भूमिका अदा करने वाले हैं, जिसके बाद वाल्श अपनी टीम के लिए एक्स फैक्टर साबित हो सकते हैं।

4 – केशव महाराज (दक्षिण अफ्रीका)

दक्षिण अफ्रीकी स्पिन गेंदबाज केशव महाराज वैसे तो अधिकतर टेस्ट क्रिकेट में ही प्रमुख तौर पर खेलते हुए नजर आते हैं। लेकिन अफ्रीका टीम के श्रीलंका दौरे के दौरान महाराज ने जिस तरह से टी-20 सीरीज में अपनी गेंदबाजी से सभी को प्रभावित किया और टीम को 3-0 से सीरीज जिताने में अहम भूमिका अदा की, उससे सभी प्रभावित दिखे। महाराज ने इस सीरीज में भले ही 3 विकेट हासिल किए लेकिन उनका इकॉनमी रेट सिर्फ 4.22 का था।

3 – डीवोन कॉन्वे (न्यूजीलैंड)

न्यूजीलैंड टीम के बाएं हाथ के ओपनिंग बल्लेबाज डीवोन कॉन्वे ने कुछ ही समय में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपनी बिल्कुल एक अलग पहचान बना ली है। कॉन्वे का टी-20 अंतरराष्ट्रीय करियर अभी फिलहाल काफी छोटा कहा जा सकता है, जिसमें उन्होंने 14 मैचों में 59.12 की औसत से 473 रन बनाए हैं, इसमें 4 अर्धशतकीय पारियां भी दर्ज हैं।

2 – वरुण चक्रवर्ती (भारत)

टी-20 वर्ल्ड कप 2021 के लिए जिस समय भारत की टीम का ऐलान किया गया था, तो उसमें वरुण चक्रवर्ती का नाम शामिल होना लगभग तय माना जा रहा था। मिस्ट्री स्पिनर के तौर पर अपनी पहचान बनाने वाले वरुण का हाल में ही खत्म हुए आईपीएल 2021 सीजन के दूसरे फेज में भी शानदार फॉर्म देखने को मिला था। वरुण की गेंदों को समझना किसी भी बल्लेबाज के लिए आसान काम नहीं दिखा। उन्होंने आईपीएल 2021 के सीजन में कुल 18 विकेट हासिल किए जिसमें उनका इकॉनमी रेट 6.59 का रहा है।

1 – ग्लेन मैक्सवेल (ऑस्ट्रेलिया)

ऑस्ट्रेलियाई टीम के पास भी इस बार टी-20 वर्ल्ड कप को अपने नाम करने का सुनहरा मौका है। टीम के जहां प्रमुख खिलाड़ी पहले ही आईपीएल 2021 सीजन के दूसरे फेज में हिस्सा लेने के लिए वहां पिछले 1 महीने से मौजूद थे, जिससे उन्हें यूएई के विकटों की समझ काफी बेहतर तरीके से हो चुकी है। इसी में विस्फोटक बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल का दूसरे फेज में शानदार फॉर्म देखने को मिला था। मैक्सवेल ने इस आईपीएल सीजन में 42.75 की औसत से 513 रन बनाए जिसमें 6 अर्धशतकीय पारियां शामिल थी। वहीं, मैक्सवेल की गेंदबाजी का जलवा भी यूएई की पिचों पर देखने को मिला।

Leave a Response