close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

The Hundred : द हंड्रेड टूर्नामेंट के सभी नियमों के बारे में जानें

साल 1877 में जबसे क्रिकेट के खेल की शुरूआत हुई तो उसके बाद से लंबे तक यह एक ही फॉर्मेट में खेला जाता रहा। लेकिन साल 1970 में इस फॉर्मेट में थोड़ बदलाव करते हुए वनडे क्रिकेट को शामिल किया गया जिससे नतीजा एक दिन में सामने आ सके और टीमों को एक लिमिटेड ओवर्स तक ही खेलने की मंजूरी दी गई। वनडे फॉर्मेट सफल होने के बाद साल 2005 में इसमें तीसरा फॉर्मेट टी-20 क्रिकेट के तौर पर शामिल किया गया।

इसके बाद टी-10 फॉर्मेट भी देखने मिला है, जहां टीमें सिर्फ 10-10 ओवर का खेल खेलती हैं। लेकिन अब इसमें एक और फॉर्मेट जल्द जुड़ने के लिए तैयार है, जो टी-20 और टी-10 फॉर्मेट को मिलाकर बनाया गया है, द हंड्रेड।

द हंड्रेड फॉर्मेट की शुरूआत पिछले साल होनी थी, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते इसे एक साल के लिए टाल दिया गया था। अब इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड जुलाई में द हंड्रेड लीग को आयोजिक करेगा जिसमें कुल 8 टीमें हिस्सा लेंगी। इस फॉर्मेट में मैच 100-100 गेंदों का होगा और इस फॉर्मेट के नियम की जानकारी हम आपको बताने जा रहे हैं।

सामान्य नियम

इस फॉर्मेट में खेलने वाली हर टीम को 100 गेंद खेलने का मौका मिलेगा और जो टीम सबसे ज्यादा रन बनाएगी वह विजेता बनेगी। वहीं मैच के दौरान फील्डिंग करने वाली प्रत्येक 10 गेंद के बाद छोर बदल सकेगी। वहीं गेंदबाज या तो 5 गेंद लगातार या फिर 10 गेंद लगातार एकबार में फेंक सकेगा। एक गेंदबाज मैच में 20 गेंद से अधिक गेंदबाजी नहीं कर सकेगा।

पॉवरप्ले और टाइमआउट

पॉवरप्ले को लेकर बात की जाए तो बल्लेबाजी करने वाली टीम को 25 गेंदों तक पॉवरप्ले मिलेगा जिसमें 30 गज के बाहर सिर्फ 2 फील्डर ही फील्डिंग कर सकेंगे। वहीं दोनों ही टीम को मैच के दौरान 2 मिनट 30 सेकेंड का स्ट्रैटेजिक टाइम आउट लेने का मौका मिलेगा।

स्कोरबोर्ड

स्कोरबोर्ड को लेकर बात की जाए तो उसे बेहद सामान्य रखा जा सकता है, जिसमें दर्शकों को विकेट और सिर्फ बची हुई गेंदों की जानकारी दी जा सकती है, ताकि दर्शक आसानी से इसे समझ सके।

प्रारुप को संक्षेप में समझें

1. प्रत्येक पारी में 100 गेंदे खेली जाएंगी।

2. प्रत्येक 10 गेंद के बाद गेंदबाजी छोर में बदलाव किया जाएगा।

3. एक गेंदबाज या तो लगातार 5 या फिर 10 गेंदें एक साथ फेंक सकता है।

4. एक गेंदबाज मैच में अधिकतम 20 गेंदें फेंक सकता है।

5. प्रत्येक पारी में 2 मिनट 30 सेकेंड का स्ट्रैटेजिक टाइम आउट मिलेगा।

6. बल्लेबाजी करने वाली टीम को शुरूआती 25 गेंदों तक पॉवरप्ले मिलेगा।

7. पॉवरप्ले के दौरान 30 गज के बाहर सिर्फ 2 फील्डर ही रह सकते हैं।

8. स्कोरकार्ड को बेहद सामान्य रखा जा सकता है, जिसमें बची हुई गेंदे और विकेट और रन दिखाए जाएंगे।

Leave a Response