close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

क्या शिखर धवन को टी-20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में चुना जाना चाहिए

साल 2021 के आखिर में यूएई और ओमान में आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप खेला जाएगा, जिसको लेकर सभी टीमों ने अपनी तैयारियां लगभग शुरू कर दी हैं। भारतीय टीम का भी इरादा यूएई के हालात का लाभ उठाते हुए टी-20 वर्ल्ड कप को दूसरी बार अपने नाम पर करना है। हालांकि उससे पहले टीम के सामने जो सबसे बड़ी समस्या है, वह ये है कि रोहित के साथ कौन दूसरा खिलाड़ी वर्ल्ड कप में ओपनिंग करेगा।

भारतीय टीम के सामने इस समय 2 विकल्प मौजूद हैं, जिसमें एक नाम श्रीलंका दौरे पर कप्तानी कर रहे ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन, वहीं दूसरा नाम लोकेश राहुल का है। कप्तान विराट कोहली के नाम को लेकर भी चर्चा की जा रही है, क्योंकि उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टी-20 सीरीज में रोहित के साथ पारी की शुरुआत करते हुए सभी को प्रभावित किया था।

धवन के पास श्रीलंका में प्रभावित करने का मौका

टी-20 वर्ल्डकप से पहले भारतीय टीम को तैयारियों के लिए सिर्फ 3 मैच खेलने का मौका मिलेगा जो श्रीलंका के दौरे पर गई भारतीय टीम खेलेगी। इस दौरे पर टीम की कप्तानी कर रहे ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन के पास चयनकर्ताओं को अपने प्रदर्शन से प्रभावित करने का अच्छा मौका होगा। धवन के पास एशियाई हालात में खेलने का काफी अच्छा अनुभव है और वह स्पिन गेंदबाजों के खिलाफ भी काफी आक्रामक नजरिए से खेलते हुए दिखाई देते हैं।

आईसीसी टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन करते हैं धवन

शिखर धवन का आईसीसी टूर्नामेंट में बतौर ओपनिंग बल्लेबाज प्रदर्शन देखा जाए तो वह काफी प्रभावित करने वाला है। साल 2019 के वनडे विश्वकप में धवन चोटिल होकर बाहर हुए थे, और उस समय भी उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए मैच में शतकीय पारी खेली थी। धवन ने साल 2013 और 2017 की चैंपियंस ट्रॉफी में सर्वाधिक 363 और 338 रन बनाए थे। धवन 20 आईसीसी टूर्नामेंट के मैचों में खेलते हुए 65.15 के औसत से 1,238 रन बना चुके हैं।

आईपीएल भी एक अच्छा मौका

इस साल इंडियन प्रीमियर लीग 2021 के सीजन के बाकी बचे मैच टी-20 वर्ल्ड कप से पहले यूएई में ही खेले जायेंगे। धवन सीजन के स्थगित होने से पहले काफी अच्छे फॉर्म में चल रहे थे और उनका इरादा इसी को जारी रखते हुए टी-20 वर्ल्ड कप टीम में अपनी जगह को आसानी से पक्का करने पर होगी।

Leave a Response