close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

भारत में दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम, बारिश के बाद 30 मिनट में होगा खेल शुरु

भारत में क्रिकेट को धर्म की तरह माना जाता है, जहां क्रिकेट मैच के दौरान लोग सारे कामकाज छोड़कर क्रिकेट मैच देखने स्टेडियम जाते हैं। स्टेडियम में मैच देखने का अपना मजा ही कुछ और है, ऐसे में साल 2020 मार्च तक भारत में दुनिया का सबसे बड़ा स्टेडियम मिल जाएगा। जहां एक लाख से ज्यादा लोग एक साथ बैठकर मुकाबला देख सकते हैं।

अहमदाबाद के करीब मोटेरा में स्थित सरदार पटेल गुजरात स्टेडियम दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम होगा। जहां तीन अलग-अलग तरह की पिचें बनाई गईं हैं, जिसमें एक पिच बांउसी, दूसरी स्पिन फ्रेंडली और तीसरी बाउंस व स्पिन की मिक्स होगी।

जीसीए के उपाध्यक्ष धनराज नाथवानी ने बताया

गुजरात क्रिकेट संघ(जीसीए) ने इस प्रोजेक्ट को तैयार किया है। जीसीए 11 पिच बनाने की तैयारी कर रहा है। जिसमें कुछ पिचें लाल, कुछ काली और कुछ दोनों की मिली-जुली मिट्टी से तैयार की गई है। तेज और स्पिन गेंदबाजों की मददगार विकेट के अलावा स्पोर्टिंग विकेट भी बनाए गए हैं।

बारिश बंद होने के आधे घंटे में शुरु हो जाएगा मुकाबला

मैदान में ड्रेनेज सिस्टम बहुत बेहतरीन बनाया गया है, बारिश बंद होने के 30 मिनट बाद ही मैच शुरु हो सकता है। नाथवानी ने कहा कि ऊपरी सतह की जल निकासी प्रणाली की योजना इस तरह से बनाई है कि बारिश रुकने के बाद 30 मिनट के भीतर पूरा मैदान सूख जाएगा। जिससे बारिश के कारण मैचों को रद्द करने की संभावना को कम करने में मदद मिलेगा।

मार्च में हो सकता है पहला मुकाबला

मोटेरा क्रिकेट ग्राउंड पर मार्च 2020 में एशिया एकादश व विश्व एकादश के बीच पहला मुकाबला हो सकता है।

 

Leave a Response

Manoj Tiwari

The author Manoj Tiwari

100 MB Sports में कंटेट राइटर का पद संभालते हुए काम का लुत्फ उठा रहे हैं। कम बोलने में विश्वास और काम को ज्यादा तवज्जो देने में भरोसा रखते हैं। मुंबई में साल भर से ज्यादा समय बिता चुके हैं, शहर को लेकर खुद की अपनी राय रखते हैं। स्पोर्ट्स हमेशा से पसंदीदा बीट रही है, अपने करियर की पारी शुक्रवार मैगजीन से शुरू की, जो स्पोर्ट्सकीड़ा और स्पोर्ट्सवाला से होते हुए अब 100 MB Sports तक आ गयी है। बीच में हमने राजनीति से लेकर मनोरंजन और यात्रा बीट पर भी काम किया, लेकिन स्पोर्ट्स की भूख खत्म नहीं हुई। मायानगरी में जब काम नहीं कर रहे होते हैं, तो शहर घूम रहे होते हैं। अभी के लिए बस इतना ही। हमें और जानना है, तो लिखा हुआ पढ़ लीजिये।