close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

ये 3 खिलाड़ी ऋषभ पंत के लिए पेश कर सकते हैं चुनौती

भारतीय क्रिकेट टीम के भविष्य कहे जाने वाले ऋषभ पंत एक बेहद होनहार विकेटकीपर बल्लेबाज़ हैं जिसकी भारत लंबे समय से खोज कर रहा था। घरेलू क्रिकेट और आईपीएल में विस्फोटक बल्लेबाज़ी से सबको अपना कायल बनाने वाले पंत ने बहुत ही कम समय में भारतीय टीम में अपनी जगह बनाई है। हालांकि अंतरराष्ट्रीय मंच पर पंत से अब तक वो पारी देखने को नहीं मिली जिसके लिए वह टीम में आए हैं। विश्व कप में शिखर धवन के चोटिल होने के बाद पंत को सबसे पहले इंग्लैंड का टिकट मिला और अब वह वेस्टइंडीज दौरे पर महेंद्र सिंह धोनी की गैरमौजूदगी में एक नई चुनौती का सामना कर रहे।

अमेरिका के फ्लोरिडा में खेले गए दो टी 20 मैच में पंत का बल्ला खामोश रहा था। वनडे सीरीज़ के दूसरे मैच में 20 और अंतिम मैच में वह खाता भी नहीं खोल सके। वहीं दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज़ में भी पंत का फ्लॉप शो देखने को मिला। क्रीज पर पैर जमाने के बावजूद विकेट गंवाने के तरीके के कारण उन्हें आलोचनाओं का सामना करना पड़ा है। टी20 और वनडे के बाद अब क्रिकेट के सबसे कड़े प्रारुप में उनका इम्तिहान होना है जिसमें उनका पहले प्रदर्शन अच्छा रहा है।

इसमें कोई शक नहीं कि पंत के सामने अभी लंबा करियर पड़ा है और उन्हें आगे भी मौके मिलेंगे। लेकिन इसके बावजूद पंत अगर चयनकर्ताओं की उम्मीदों पर खरे नहीं उतरे तो भविष्य में ये विकेटकीपर बल्लेबाज़ उनको चुनौती दे सकते हैं।

ईशान किशन –

ईशान किशन वर्तमान में भारत ए टीम का हिस्सा हैं, जो दर्शाता है कि वह 21 साल की उम्र में अपने करियर में कितना बढ़ चुके हैं। झारखंड से ताल्लुक रखने वाला ये बल्लेबाज़ गेंदबाजों पर रहम करना नहीं जानता। 70 टी20 में इस विकेटकीपर का स्ट्राइक-रेट 130.86 है जिसमें दो शतक भी शामिल हैं।

इसके अलावा, सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में किशन ने 55.3 की औसत और 151.36 की स्ट्राइक रेट से 333 रन बनाए हैं। एकमात्र पहलू जहां ईशान को सुधार करने की आवश्यकता है वो है संयम के साथ पारी को आगे बढ़ाना। वो कई बार बड़े शॉट्स लगाने के प्रयास में सस्ते में अपना विकेट गंवा बैठते हैं। 2016 में गुजरात लायंस से आईपीएल करियर की शुरुआत वाले ईशान वर्तमान में मौजूदा चैंपियन मुंबई इंडियंस का हिस्सा हैं। लिस्ट ए क्रिकेट में किशन का औसत 37.10 का है जिसमें तीन शतक भी शामिल हैं।

वेस्टइंडीज में बड़ी पारी नहीं खेल पाने पर ऋषभ पंत ने दी सफाई

संजू सैमसन –

भारत के लिए एकमात्र टी20 खेलने वाले संजू सैमसन देश के सबसे प्रतिभाशाली खिलाड़ियों में से एक हैं जिनको टीम में शामिल करने के लिए कई पूर्व क्रिकेटर भी समर्थन कर चुके हैं। गौतम गंभीर ने यहां तक कहा कि था उन्हें 2019 विश्व कप का हिस्सा होना चाहिए। केरल के इस क्रिकेटर ने 2013 में आईपीएल और चैंपियंस लीग में शानदार प्रदर्शन किया और वह अर्द्धशतक लगाने वाले सबसे युवा खिलाड़ी बने थे। इसी साल उन्हें आईपीएल में सर्वश्रेष्ठ युवा क्रिकेटर के खिताब से नवाजा गया। साल 2015 में संजू को जिम्बॉब्वे दौरे के लिए टीम में जरुर चुना गया लेकिन एक मैच के बाद उन्हें टीम से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया।

वह किसी भी तरह से रेडार से बाहर नहीं है। 2019 के आईपीएल में, उन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ एक शतक के साथ 342 रन बनाए। लिस्ट ए क्रिकेट में उनके आकंड़ों में हालांकि सुधार की जरूरत है। वह पंत के सामने चुनौती पेश करने के सबसे बड़े दावेदार होंगे।

अंकुश बैंस –

हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर के इस खिलाड़ी की चर्चा भले ही बहुत कम हो लेकिन वह आने वाले समय में भारतीय चयनकर्ताओं के दरवाज़े पर दस्तक दे सकता है। अंकुश ने 2014 के अंडर19 विश्व कप में दो अर्धशतक लगाए और अब तक 36 टी20 में 23.74 की औसत से 736 रन बना चुके हैं।

वह कई आईपीएल फ्रैंचाइजी का हिस्सा रहे और मौजूदा समय में दिल्ली कैपिटल से जुड़े हुए हैं। दुर्भाग्य से उन्हें अभी तक अपनी कला दिखाने का ज्यादा मौका नहीं मिला है। अंकुश केवल 23 वर्ष के है और उनका भविष्य उज्जवल है। लिस्ट ए क्रिकेट में बैंस ने 24.05 की औसत से 818 रन बनाए हैं, इस दौरान उन्होंने तीन अर्द्धशतक और एक शतक भी जमाया।

Leave a Response