close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

दिन-रात के टेस्ट मैच में इन 3 बल्लेबाजों का रहा अब तक सबसे शानदार औसत

क्रिकेट के सबसे पुराने फॉर्मेट या खिलाड़ी की पूरी परीक्षा लेने वाले प्रारूप को लेकर बात की जाए तो वह टेस्ट क्रिकेट है। इस फॉर्मेट में जहां एक बल्लेबाज की तकनीक से लेकर उसके धैर्य का सही तरीके से पता चल पाता है तो वहीं, गेंदबाज के लिहाज से देखा जाए तो वह कितनी रफ्तार से लगातार एक लाइन-लेंथ पर गेंदबाजी कर सकता है।

इसी कारण जब कोई खिलाड़ी टेस्ट क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करता है तो वह उसके करियर का सबसे शानदार पल बन जाता है। 5 दिनों के इस फॉर्मेट में प्रत्येक दिन हर सत्र में एक खेल अलग तरह से चलता हुआ देखने मिलता है, जिसके कारण टीमें अधिक से अधिक सत्र जीतकर मैच में जीत हासिल करने की कोशिश करती हैं।

हालांकि, बदलते समय के साथ टेस्ट क्रिकेट में भी कई तरह के बदलाव देखने को मिले हैं, जिसमें सबसे बड़ा बदलाव 100 साल से अधिक पुराने इस फॉर्मेट में उस समय देखने को मिला जब इसे दिन-रात के तौर पर खेलने का फैसला किया गया क्योंकि इससे पहले टेस्ट फॉर्मेट को दिन के समय ही खेला जाता था। इसके बाद दिन-रात के टेस्ट मैच में कई तरह के बदलाव भी देखने को मिले जिसमें पिंक बॉल का प्रयोग हुआ और इसी कारण इसे पिंक बॉल टेस्ट मैच के तौर पर भी पहचाना जाता है।

अभी तक वर्ल्ड क्रिकेट की कई दिग्गज टीमें पिंक बॉल टेस्ट मैच में खेलते हुए दिखी हैं जिसे वह सीरीज के किसी एक मैच को पिंक बॉल के तौर पर खेलती हैं। दूधिया रोशनी में यह रोमांच को और भी अधिक बढ़ा देता है। हम आपको अभी तक ऐसे 3 खिलाड़ियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने सबसे ज्यादा औसत के साथ पिंक बॉल टेस्ट क्रिकेट में रन बनाए हैं, जिसमें हमने कम से कम 200 रन तक बनाने वाले खिलाड़ियों को शामिल किया है।

3 – अजहर अली (67.71 का औसत)

पाकिस्तान टीम के लिए टेस्ट क्रिकेट में सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ी के तौर पर खेलने वाले अजहर अली का पिंक बॉल टेस्ट क्रिकेट में अभी तक 67.71 का औसत देखने को मिला है। अली ने 4 मैचों की 8 पारियों में 474 रन बनाए हैं, जिसमें एक शतक और 2 अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं।

2 – मार्नश लाबुशेन (81.50 का औसत)

ऑस्ट्रेलियाई टीम से जब मार्नश लाबुशेन को पहली बार खेलने का मौका मिला तो किसी ने यह नहीं सोचा था कि वह बहुत जल्द टीम के लिए टेस्ट क्रिकेट में स्टीव स्मिथ के बाद सबसे प्रमुख खिलाड़ी बन जायेंगे। पिंक बॉल टेस्ट क्रिकेट में मार्नश लाबुशेन के प्रदर्शन को लेकर बात की जाए तो उन्होंने 4 मैचों की 6 पारियों में 489 रन 81.50 की औसत से बनाए हैं। इसमें 2 शतक और 2 अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं।

1 – डैरेन ब्रावो (101.50 का औसत)

वेस्टइंडीज टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज डैरेन ब्रॉवो के पिंक बॉल टेस्ट क्रिकेट में 101.50 के औसत की सबसे बड़ी वजह 116 रनों की पारी है। ब्रावो ने अपने टेस्ट करियर में सिर्फ 1 बार पिंक बॉल टेस्ट मैच खेला है, जिसमें 2 पारियों में उन्होंने 203 रन बनाए हैं। इसमें 1 शतक और 1 अर्धशतकीय पारी शामिल है।

Leave a Response