close
DOWNLOAD 100MB MOBILE APP

बतौर गेंदबाज विराट कोहली के नाम दर्ज है ये अनोखा रिकॉर्ड

भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली का बल्ला क्रिकेट जगत में जिस तरह से बोला उसकी चर्चा हर जगह देखने को मिली है। कोहली के नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के तीनों ही फॉर्मेट में कई नए रिकॉर्ड बनाने के साथ पुराने रिकॉर्ड्स को तोड़ने का कारनामा भी दर्ज है। वहीं कोहली ने एक कप्तान के तौर पर भी खुद को साबित किया है।

जिसमें भारतीय टीम ने उन्हीं कप्तानी में साल 2018-19 में ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीती। भले ही वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल मुकाबले में टीम को न्यूजीलैंड के हाथों हार का सामना करना पड़ा। लेकिन पूरे टूर्नामेंट के दौरान जिस तरह से भारतीय टीम ने शानदार प्रदर्शन किया उसका श्रेय कप्तान विराट कोहली को भी दिया जाना चाहिए।

लेकिन क्या आपको पता है कि कोहली के नाम वर्ल्ड क्रिकेट में बल्लेबाजी के अलावा गेंदबाजी में भी एक अनोखा रिकॉर्ड दर्ज है। जिसमें कोहली अंतरराष्ट्रीय टी-20 फॉर्मेट में एकमात्र ऐसे गेंदबाज हैं जिन्होंने अपने करियर की पहली गेंद वाइड डालते हुए उसमें विकेट हासिल कर लिया था।

केविन पीटरसन बने शिकार

साल 2011 में भारतीय टीम इंग्लैंड के दौरे पर थी, जहां दोनों ही टीमों के बीच एक मैच की टी-20 सीरीज मैनचेस्टर के मैदान में खेली गई थी। इस मैच में भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी की और 19.4 ओवरों में 165 के स्कोर पर सिमट गई थी। भारत की तरफ से मैच में अजिंक्य रहाणे ने सबसे ज्यादा 61 रनों की पारी खेली थी। वहीं इंग्लैंड की तरफ से जेड डर्नबेच ने सबसे ज्यादा 4 विकेट हासिल किए थे।

जवाब में मेजबान इंग्लैंड की टीम ने अपना पहला विकेट शून्य के स्कोर पर एलेक्स हेल्स के रूप में गंवा दिया। इसके बाद क्रेग कीजवेटर और केविन पीटरसन ने दूसरे विकेट के लिए 58 रनों की साझेदारी करते हुए टीम को लक्ष्य की तरफ ले जाने का काम किया। लेकिन कीजवेटर 18 के निजी स्कोर पर मुनाफ पटेल का शिकार बन गए।

वहीं दूसरे छोर पर बल्लेबाजी कर रहे केविन पीटरसन को अंदाजा नहीं था कि उस समय भारतीय टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी गेंदबाजी के लिए विराट कोहली को बुला सकते हैं। जिसमें कोहली को पारी का 8वां ओवर फेकने के लिए बुलाया गया था। जिसमें कोहली ने ओवर की पहली ही गेंद वाइड डाल दी लेकिन पीटरसन शॉट खेलने के प्रयास में क्रीज से

बाहर निकल गए और धोनी ने उन्हें स्टंप आउट कर दिया। जिसके बाद कोहली टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पहले ऐसे गेंदबाज बन गए जिन्होंने अपने करियर की पहली ही गेंद पर वाइड गेंद पर विकेट हासिल किया।

Leave a Response